Friday, 6 December 2019

Hyderabad Encounter: उन चारों को मारने के सिवाय पुलिस के पास कोई विकल्प नहीं था: भूपेश बघेल

नई दिल्ली। हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है, यह एनकाउंटर नेशनल हाइवे-44 के पास हुआ है, जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने काफी बड़ी बात कही, उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जब अपराधियों ने भागने की कोशिश की तो पुलिस के पास और कोई विकल्प नहीं था, ऐसे में मैं कह सकता हूं कि न्याय हुआ है।
Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel on all four accused in rape&murder of woman veterinarian in Telangana killed in encounter: When a criminal tries to escape, police are left with no other option, it can be said that justice has been done.
View image on Twitter
141 people are talking about this

'पुलिस के पास और कोई विकल्प नहीं था'

इससे पहले तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने कहा कि यह 'भगवान का न्याय' है, उसने इंसाफ कर दिया, उन्होंने अपने राज्य की पुलिस की पीठ थपथपाते हुए कहा कि आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी तो उन्हें मार गिराया गया। पीड़िता के पिता ने भी इस पर बात करते हुए कहा कि यह इंसाफ है और आज मेरी बच्ची की आत्मा को इससे शांति मिलेगी।

'भगवान ने न्याय किया'

इससे पहले तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने कहा कि यह 'भगवान का न्याय' है, उसने इंसाफ कर दिया, उन्होंने अपने राज्य की पुलिस की पीठ थपथपाते हुए कहा कि आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी तो उन्हें मार गिराया गया। पीड़िता के पिता ने भी इस पर बात करते हुए कहा कि यह इंसाफ है और आज मेरी बच्ची की आत्मा को इससे शांति मिलेगी।

लिस ने मुठभेड़ में चारों आरोपियों को मार गिराया

मालूम हो कि चारों आरोपी पुलिस रिमांड में थे और उन्हें गुरुवार देर रात नेशनल हाइवे-44 पर क्राइम सीन पर ले जाया गया था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि क्राइम सीन रिक्रिएट करने के दौरान आरोपियों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया और धुंध का फायदा उठाकर भागने की कोशिश की और इसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ में चारों आरोपियों को मार गिराया। 

सोशल मीडिया

बहरहाल, हैदराबाद पुलिस की इस कार्रवाई की सोशल मीडिया मिली-जुली प्रतिक्रिया आ रही है, जहां देश की न्याय व्यवस्था में भरोसा खो चुके कुछ लोग एनकाउंटर पर खुशी जता रहे हैं तो वहीं कुछ लोग आरोपियों के एनकाउंटर पर सवाल खड़े कर रहे हैं।