Tuesday, 9 June 2020

15 दिनों बाद पूरी हुई तलाश, इस दूधवाले को पुलिस की गिरफ्तार, हैरान कर देगा कांड

15 दिनों बाद पूरी हुई तलाश, इस दूधवाले को पुलिस की गिरफ्तार, हैरान कर देगा कांड
भरतपुर : राजस्थान के भरतपुर शहर के मथुरा गेट थाना इलाके में पिछले 15 दिन से सैकड़ों लोगों में कोरोना संक्रमण की दहशत फैलाने वाला आरोपी दूधिया आखिर सोमवार को पुलिस के हाथों पकड़ा गया। 22 मई से फरार इस युवक को भरतपुर पुलिस तब से तलाश रही थी जब से उसकी करतूत का वीडियो वायरल हुआ था।इस वीडियो में वह सरस डेयरी बूथ से दूध की थैलियां लेता है और अपने दांतों से ही काटकर दूध अपने ड्रम में भरत नजर आया था। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के दौरान इस तरह का वीडियो वायरल होने से समूचे मथुरा गेट थाना इलाके में हड़कंप मच गया था।
मथुरा गेट थाना प्रभारी राजेंद्र शर्मा ने बताया की विगत 22 मई को एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमे एक दूध बेचने वाला व्यक्ति बूथ से दूध की थालियां खरीदकर उनको अपने मुंह से फाड़कर उनको दूध की टंकियों में डाल रहा था। यह युवक तभी से वह फरार चल रहा था। पुलिस ने सोमवार को उसे गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक की पहचान मथुरा निवासी मोनू गुर्जर के रूप में हुई है।
भतरपुर में 676 को कोरोना संक्रमण, वीडियो ने बढ़ा दी थी चिंता
यह घटना मथुरा गेट थाना इलाके में बिजली घर चौराहे की थी। यह दूधिया डेयरी से दूध लेकर उसी को फिर शहर में घर-घर जाकर बेचता था और जिस तरह से दूधिया अपने दांतों से दूध को छूकर टंकियों में भरकर लोगों को घर-घर बेचता रहा, उससे सैकड़ों घरों में कोरोना संक्रमण आसानी से फ़ैल सकता था। फिलहाल भरतपुर जिले में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 676 पहुंच गई है लेकिन इसी बीच दूधिया की यह करतूत इस संक्रमण को तेजी से बढ़ा सकती थी |
15 दिन पहले वायरल हुआ था वीडियो
22 मई को भरतपुर जिले में यह चौंकाने वाला वीडियो वायरल हुआ था। इसमें ऐसी लापरवाही नजर आई जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण एक व्यक्ति से सैकड़ों लोगों तक पहुंचने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता था। यह वीडियो भरतपुर के दूध सप्लाई करने वाले एक युवक का था जो अपने दांतों से सरस दूध की थैलियों को काटकर अपने बरतन में खाली करता नजर आया था।