Thursday, 28 May 2020

डॉक्टर्स ने कोख में ही मर चुके बच्चे को कहा कचरा तो मां को पहुंचा काफी दुख, वो साबित करना चाहती थी कि उसका बच्चा कोई कचरा नहीं है


अमेरिका की एक महिला का बच्चा उसकी कोख में ही मर गया तो डॉक्टरों ने उसे मेडिकल कचरा कहा। यह बात उस मां को काफी बुरी लगी और उसने अपने बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की और लोगों को यह बताने की कोशिश की कि जिस बच्चे को डॉक्टर कचरा समझ रहे थे, वह पूरी तरह विकसित बच्चा था। तस्वीर में बच्चे के छोटे-छोटे हाथ और पैर नजर आ रहे हैं। महिला ने इन तस्वीरों के जरिए कपल्स को यह बताने की कोशिश की कि जो अबॉर्शन करवा रहे हैं, वह काफी बड़ी गलती कर रहे हैं।
गर्भ में ही मर गया था बच्चा
यह कहानी अमेरिका के मिसौरी की शैरन सुदरलैंड (40) और उनके पति माइकल सुदरलैंड (35) की है। उनके बेटे की मौत गर्भ में ही हो गई। 14 हफ्ते के घर के बाद महिला की सोनोग्राफी रिपोर्ट देखने पर पता चला कि गर्भ में ही बच्चे के दिल ने धड़कना बंद कर दिया। इसके बाद डॉक्टरों ने महिला को अबॉर्शन कराने के लिए कहा।
डॉक्टरों ने अबॉर्शन कराने के लिए कहा। लेकिन वह नहीं चाहती थी कि उसके बच्चे को टुकड़े-टुकड़े करके निकाला जाए। इसलिए उसने 23 अप्रैल को 173 दिन के गर्भ के बाद बच्चे को प्राकृतिक तरीके से जन्म दिया। महिला ने मृत बच्चे के शव को अपने फ्रीज में संभाल कर रखा और बाद में इस कपल ने नवजात को अपने गार्डन में रखे एक गमले में दफना दिया और उसमें हाइड्रेंजिया पौधा लगा दिया।
डॉक्टर की बात सुनकर हुआ दुख
डॉक्टर ने शैरन की डिलीवरी की तारीख 12 अक्टूबर बताई थी। इस तारीख को महिला ने अपने सोशल मीडिया पर 14 हफ्ते के बेटे की तस्वीर शेयर की और बताया कि बच्चे की मौत के बाद उसको कैसा लगा। महिला ने बताया कि डॉक्टर ने उसके बच्चे के शव को कचरा कहा।
शैरन 11 बच्चों की मां है। शैरन ने बताया कि डिलीवरी के बाद जब वह बाहर आया तो उसकी बॉडी 4 इंच की थी। उसका वजन 26 ग्राम था। इस दौरान बच्चे का चेहरा, हाथ-पैर, यहां तक कि उसकी उंगलियों के नाखून भी पूरी तरह बन चुके थे। डॉक्टरों ने हमसे कहा कि या तो हम नवजात को मेडिकल कचरा मानते हुए निपटारा कर देंगे या आप फ्यूनरल होम वालों को बुला सकते हैं।
अन्य कपल्स के लिए लिखा मैसेज
शैरन ने बताया कि जब कोई महिला अपने अजन्मे बच्चे को खोती है तो उसका दुख कोई नहीं समझ सकता। उसने लिखा कि मुझे उम्मीद है कि इन तस्वीरों को देखने के बाद वह कपल जो अबॉर्शन कराने के बारे में सोच रहे हैं, अपना फैसला जरूर बदल देंगे।
महिला ने लिखा- हाल ही में मेरी एक दोस्त अबॉर्शन कराने करवाने वाली थी, क्योंकि वह और उसका पार्टनर काफी कम उम्र के थे और जिम्मेदारी नहीं उठाना चाहते थे। लेकिन जब उन्होंने मेरे बेटे की तस्वीर देखी तो उन्होंने अपना फैसला बदल दिया।