Thursday, 21 May 2020

एक साल से करते थे एक दुसरे को प्रेम, लॉकडाउन में मिले बिना नही रह सके तो प्रेमी आ पहुचा प्रेमिका के घर और फिर घर वालो ने पकडकर

एक साल से करते थे एक दुसरे को प्रेम, लॉकडाउन में मिले बिना नही रह सके तो प्रेमी आ पहुचा प्रेमिका के घर और फिर घर वालो ने पकडकर…
सहजनवां ब्लाक के पचौरी निवासी 21 वर्षीय बबिता पुत्री रामहरि का बांसगांव थाना क्षेत्र बघराई निवासी राधवेंद्र पुत्र चंद्रिका से करीब एक वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेमी हमेशा गांव के एक मित्र के यहां आता जाता था और उसी दौरान दोनों प्रेम हो गया।
प्रेमी रात में करीब 12 बजे प्रेमिका के घर मे घुस गया। युवती के परिजनों ने उसे घर में घुसते हुए देख लिया। जैसे ही वह कमरे घुसा, युवती के परिवारों ने कमरे को बाहर से बंद कर दिया। उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस रात में ही प्रेमी को थाने उठा लाई और युवती के परिजनों को सुबह थाने पर बुलाई।
इस बीच सुबह प्रेमिका भी थाने पर पहुंच गई और प्रेमी से शादी करने की बात की तो प्रेमी ने इंकार कर दिया। युवती ने प्रेमी के खिलाफ तहरीर दिया लेकिन युवक के परिजन आकर शादी के लिए राजी हो गए।
दोनों परिवारों की सहमति के बाद थाना परिसर में स्थित मंदिर में पुलिस की निगरानी में एक दूसरे को जयमाल डालकर कर आजीवन संग रहने की कसम खाई। शादी के बाद प्रेमी युगल घर चले गए। एसओ देवेंद्र लाल ने कहा कि युवती की तहरीर मिली थी लेकिन दोनों परिवार ने समझौता कर प्रेमी युगल की शादी मंदिर में कराके घर चले गए।