Saturday, 25 April 2020

CAA: जाफराबाद हिंसा मामले में जामिया की छात्रा सफूरा गिरफ्तार, दंगों के लिए लोगों को भड़काने का आरोप

CAA: जाफराबाद हिंसा मामले में जामिया की छात्रा सफूरा गिरफ्तार,  दंगों के लिए लोगों को भड़काने का आरोप
नई दिल्ली। दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून ( CAA ) के खिलाफ जाफराबाद हिंसा ( Zafarabad Violence ) मामले में दिल्ली पुलिस ने जामिया की छात्रा सफूरा जरगर को गिरफ्तार कर लिया। सफूरा पर सीएए के ख्लिाफ प्रदर्शन के दौरान दंगों के लिए साजिश रचने का आरोप है।
उत्तर पश्चिमी दिल्ली के जाफराबाद ( Jafrabad ) इलाके में फरवरी में हुए प्रदर्शनों के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने जामिया को-ऑर्डिनेशन कमेटी की मीडिया को-ऑर्डिनेटर सफूरा जरगर को गिरफ्तार किया।
Coronavirus: अब भारत बना महामारी के खिलाफ दुनिया का रोल मॉडल, अमरीका जैसे देश मांग रहे हैं मदद
जामिया मिल्लिया इस्लामिया में एमफिल की छात्रा सफूरा जरगर पर आरोप है कि उसने प्रदर्शनों के दौरान जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नजदीक ब्लॉकर लगाए थे। इतना ही नहीं वो अपने साथ भीड़ लेकर जफराबाद मेट्रो स्टेशन पहुंची थी। उसने ही जफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे CAA के खिलाफ महिलाओं को जुटाया था। जफराबाद मेट्रो स्टेशन पर प्रदर्शन के दौरान कई बार सफूरा देखी भी गई थी।
लॉकडाउन के बीच त्रिपुरा में शुरू हुआ चाय की पत्ती तोड़ने का काम, गाइडलाइन का रखा जा रहा है ध्यान
बता दें कि दिसंबर, 2019 से मार्च 2020 के दौरान देशभर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन का दौर चला था। इसका केंद्र दिल्ली में शाहीन बाग था। जाफराबाद में हुई हिंसक घटनाएं भी उसी का एक हिस्सा था। सीएए के खिलाफ राजधानी में हिंसक घटनाओं से दिल्ली दहल उठी थी। जाफराबाद, गोकुलपुरी, चांदबाग, मौजपुर, जाफराबाद, करावल नगर इलाके में नागरिकता संशोधन कानून के विरोधी और समर्थक आमने-सामने आ गए। इसी मामले में जामिया की छात्रा को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।