Thursday, 23 April 2020

लॉकडाउन के चलते रद होते रहे मैच, तो खत्म हो जाएगें क्रिकेट बोर्ड : पूर्व पाक क्रिकेटर


कराची (भाषा)। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर रमीज रजा को लगता है कि दुनिया भर के क्रिकेट बोर्ड लंबे समय तक टिक नहीं पाएंगे, अगर मैच कोरोना वायरस महामारी के कारण रद या स्थगित होते रहे। इस महामारी के चलते दुनिया भर का खेल शेड्यूल प्रभावित हुआ है। क्रिकेट इससे अलग नहीं है। सभी बाईलिट्रल सीरीज को रोक दिया गया है और इंडियन प्रीमियर लीग जैसी राष्ट्रीय टी 20 लीग को अनिश्चित काल के लिए स्थगित किया जा चुका है।
बिना मैच के कैसे होगी आमदनी
क्रिकेट में कोरोना संकट को देखते हुए रमीज रजा ने अपने यू-ट्यूब चैनल में कहा, क्रिकेट प्रशंसकों को अब लाइव मैच देखना है मगर कोरोना वायरस महामारी ने एक ठहराव ला दिया है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि क्रिकेट बोर्ड इस तरह लंबे समय तक जीवित रह सकते हैं। वे क्रिकेट गतिविधियों के बिना वेतन और खर्च का भुगतान करना जारी नहीं रख सकते हैं। उनके लिए मुश्किल समय आने वाला है। रजा ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) से क्रिकेट को फिर से शुरू करने के लिए अन्य देशों के साथ बातचीत करने का आग्रह किया। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि बंद दरवाजों के पीछे मैच खेलना शुरू किया जाना चाहिए क्योंकि क्रिकेट को फिर से शुरू करना अभी सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, मैं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से इन बातों पर विचार करने और अन्य बोर्डों के साथ बातचीत करने का भी आग्रह करूंगा कि क्रिकेट गतिविधियां कैसे हो सकती हैं। बिना दर्शकों के पीछे भी मैच शुरू किया जा सकता है।
पीसीबी को शुरु करनी होगी पहल
रजा कहते हैं, पीसीबी इस बातचीत को शुरू करने में पहला कदम उठा सकता है। कोई भी क्रिकेट बोर्ड, चाहे वह कितना भी अमीर क्यों न हो, हमेशा के लिए लॉकडाउन की स्थिति में सबको वेतन देना जारी नहीं रख सकता है। हमें बातचीत करके क्रिकेट को फिर से शुरु करने की जरूरत है। क्रिकेटर से कमेंटेटर बने रजा ने कहा, "अगर प्रशंसक इसमें शामिल नहीं हो सकते, तो इसे बंद करना एक विकल्प है।"