Friday 17 April 2020

हरियाणा/ लॉकडाउन में प्यार को परवान चढ़ाना पड़ा भारी, शादी तो कर ली लेकिन.......

लॉक डाउन के दौरान अपने प्यार को परवान चढ़ाना एक प्रेमी जोडे़ को भारी पड़ गया। घरवालों की मर्जी के खिलाफ इन प्रेमियों ने शादी तो कर ली। लेकिन लॉक डाउन का नियम तोड़ने के आरोप में फंस गए।

नूंह। लॉक डाउन के दौरान अपने प्यार को परवान चढ़ाना एक प्रेमी जोडे़ को भारी पड़ गया। घरवालों की मर्जी के खिलाफ इन प्रेमियों ने शादी तो कर ली। लेकिन लॉक डाउन का नियम तोड़ने के आरोप में फंस गए। जब प्रेमी जोडे़ ने अदालत में जाकर खुद की प्रोटेक्शन की मांग की तो अदालत ने उन्हें प्रोटेक्शन को प्रदान कर दी, लेकिन साथ में उनसे लॉक डाउन तोड़ने के लिए जवाब भी तलब कर लिया।
पूरे घटनाक्रम के बाद जहां एक ओर आरोपित प्रेमी जोड़ा हैरान है तो वहीं अन्य के लिए भी नसीहत मिल गई है कि लॉक डाउन का उल्लंघन किसी भी सूरत में बर्दाश्त से बाहर होगा। जानकारी के अनुसार नूंह जिले के रहने वाले एक युवक व युवती के बीच प्रेम प्रसंग था। जिसका दोनों के ही परिवार वालों को एतराज था। जब दोनों को अपना प्यार परवान चढ़ता नहीं दिखाई दिया तो दोनों को घर से भाग कर शादी रचाने की योजना बनाई।
दोनों ने घर से भाग कर निकाह भी रचा लिया। साथ ही अपने प्रोटेक्शन के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश के समक्ष गुहार लगाई। दोनों ने अदालत के समक्ष कहा कि वे दोनों बालिग है तथा अपनी इच्छा से शादी कर रहे हैं। नियम के मुताबिक अदालत ने दोनों को प्रोटेक्शन तो दे दी। लेकिन लॉक डाउन तोड़ने के लिए जवाब भी तलब कर लिया। अदालत ने दोनों से पूछा कि वे प्रोटेक्शन के तो हकदार हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते देशभर में चल रहे लॉक डाउन को तोड कर अपराध कर रहे हैं।
जिसके लिए उन्हें जवाब देना होगा। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने अपने आदेश में प्रोटेक्शन के लिए दोनों को एसपी के समक्ष पेश होने के निर्देश दिए। साथ ही अपने आदेश एसपी को निर्देश दिए कि वह दोनों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करे। जिस पर एसपी ने तुरंत की दोनों के खिलाफ केस दर्ज करने के आदेश दिए। नूंह सिटी थाने में दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। प्रेमी जोड़ा फिलहाल पुलिस लाईन में बने सेफ होम में रह रहा है।