Saturday, 25 April 2020

बिहार: जांच करने पहुंची पुलिस पर मस्जिद से पथराव और फायरिंग, चार लोग गिरफ्तार

बिहार: जांच करने पहुंची पुलिस पर मस्जिद से पथराव और फायरिंग, चार लोग गिरफ्तार
नई दिल्ली। कोराना वायरस ( coronavirus ) को लेकर पूरी दुनिया में हड़कंप मचा हुआ है। भारत ( India ) में भी ये वायरस काफी तेजी से फैलता जा रहा है। देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1400 के पार पहुंच चुका है, जबिक 38 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन, बीच में दिल्ली ( Delhi ) के निजामुद्दीन ( Nizamuddin ) में तबलीगी जमात में कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव वाली घटना से सबको हैरान कर दिया है। आलम ये है कि देश के कई मस्जिदों में इस तरह की खबरें सामने आ रही है। ताजा मामला है बिहार के मधुबनी ( Madhubani ) जिले की, जहां जांच करने पहुंची पुलिस की टीम पर मस्जिद से पथराव और फायरिंग की गई।
मधुबनी के एसपी डॉ सत्यप्रकाश का कहना है कि तबलीगी जमात की तलाश में पुलिस की टीम मस्जिद पहुंची थी। लेकिन, मस्जिद से अचानक पथराव और फायरिंग शुरू हो गई। एसपी का कहना है कि इस पथराव में स्थानीय लोगों ने भी सहयोग किया। उन्होंने बताया कि तबलीगी जमात समर्थकों के हमले के बाद बीडीओ और थानेदार किसी तरह वहां से जान बचाकर भागे । लेकिन हिंसा पर उतारू हमलावरों ने प्रशासन की एक गाड़ी में तोड़फोड़ कर उसे तालाब में गिरा दिया।
इधर, पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए 15 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की है। साथ ही 4 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। यहां आपको बता दें कि झंझारपुर के डीएसपी ने हमलावरों की ओर से पुलिस पर फायरिंग किए जाने की भी बात कही थी। एसपी ने एक मीडिया हाउस से बातचीत के दौरान यह भी बताया कि फिलहाल के जांच में यह पाया गया है कि उस मस्जिद में दिल्ली के निजामुद्दीन जमात में शामिल हुआ व्यक्ति नहीं था। लेकिन, उन्होंने उस मस्जिद में भी विदेशियों के होने की बात से इनकार नहीं किया। मधुबनी के एसपी ने बताया कि इस मस्जिद में आए लोग ज्यादातर नेपाल से आए है। फिलहाल, पूरे मामले की छानबीन की जा रही है लेकिन इस घटना से इलाके में तनाव का माहौल कायम है। साथ ही पुलिसकर्मियों की गतिविधि भी काफी बढ़ा दी गई है।