Wednesday, 22 April 2020

ऑस्ट्रेलियाई दौरे को लेकर रोहित शर्मा का बयान, ये 2 बल्लेबाज भारत के लिए खड़ी करेंगे मुश्किलें


भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का मानना है कि डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ की उपस्थिति में इस साल उनकी टीम का भारतीय दौरा पूरी तरह से भिन्न होगा। भारत ने 2018-19 की श्रृंखला में 2-1 से जीत दर्ज की थी, जो उसकी ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर 71 वर्षों में उसकी पहली जीत थी।
रोहित ने बुधवार को इंडिया टुडे से कहा, ''मैं न्यूजीलैंड दौरे की तैयारियों में जुटा था लेकिन दुर्भाग्य से गलत समय पर चोटिल (पिंडली की चोट) हो गया था। मैं ऑस्ट्रेलिया जाकर वहां टेस्ट मैच खेलने के लिये इंतजार नहीं कर सकता हूं। इन दो खिलाड़ियों की मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी धरती पर खेलना पूरी तरह से भिन्न होगा।''
रोहित के अनुसार पारी का आगाज करना चुनौती है जो उनको पसंद है। इसका सबूत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सलामी बल्लेबाज के रूप में उनकी शानदार शुरुआत थी। वह हालांकि 2018 के ऑस्ट्रेलिया दौरे से ही इस जिम्मेदारी के लिये तैयार थे जब टीम प्रबंधन ने उन्हें स्पष्ट संकेत दे दिये थे। उन्होंने कहा, ''मुझसे कहा गया था कि मुझे टेस्ट मैचों में भी पारी की शुरुआत करनी पड़ सकती है। यह दो साल पुरानी बात है। मैं तभी से खुद को तैयार कर रहा था।''
रोहित ने कहा कि ड्रेसिंग रूम में बैठकर मैच देखने में कोई मजा नहीं आता है। उन्होंने कहा, ''आप मौका चाहते हो। हर कोई क्रीज पर उतरना चाहता है। मैं भी मैच देखना नहीं खेलना चाहता था। जब मौका मिला तो मैं तैयार था। कुछ तकनीकी पहलू थे जिन पर मुझे ध्यान देना था।''
रोहित ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई श्रृंखला काफी रोमांचक होगी क्योंकि भारतीय टीम अभी अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेल रही है। उन्होंने कहा, ''एक टीम के तौर पर हम अभी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं। हर कोई विरोधी टीम के हाथों से मैच छीनना चाहता है। अगर (कोविड-19 महामारी के बावजूद) यह श्रृंखला होती है तो यह शानदार श्रृंखला होगी।''
भारत को टी20 विश्व कप में खेलने के लिये अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया जाना है जिसके बाद उसे जनवरी तक टेस्ट श्रृंखला खेलनी है। लेकिन कोरोना वायरस के विश्व भर में फैले प्रकोप के कारण इसको लेकर आशंकाएं भी जतायी जा रही हैं।