Saturday, 25 April 2020

दिल्ली में लोगों ने उड़ाई लॉकडाउन की धज्जियां , 1,000 से अधिक मामले आए सामने

दिल्ली में लोगों ने उड़ाई लॉकडाउन की धज्जियां , 1,000 से अधिक मामले आए सामने
नई दिल्ली। कोरोना वायरस से बचावा के लिए राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन है। लेकिन दिल्ली के लोग लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे। दिल्ली पुलिस के मुकाबिक, लॉकडाउन के पहले दिन राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों से इसका उल्लंघन करने को लेकर अब तक 1,012 मामले दर्ज किए गए हैं।
एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इनमें से ज्यादातर मामले आईपीसी की धारा 188 और दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत दर्ज किए गए हैं। दिल्ली पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, 'दर्ज किए गए कुल मामलों में से 100 मामले आईपीसी की धारा 188 के तहत विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज किए गए हैं। जबकि 475 दिल्ली पुलिस अधिनियम के सेक्शन 65 और 323 दिल्ली पुलिस अधिनियम के सेक्शन 66 के तहत दर्ज किए गए।'
पुलिस ने कहा, 'दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत 801 मामले दर्ज किए गए। 15 जिलों में, सबसे अधिक 29 मामले दक्षिण पूर्व जिले में धारा 188 के तहत दर्ज किए गए। इस जिले में दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत सबसे ज्यादा और कुल 211 मामले दर्ज किए गए।'
कोरोना का कहर जारी
भारत में कोरोना का कहर जारी है। देश में अब तक कोरोनो के 500 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। वहीं 10 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। कोरोना को देखते हुए देश के कई राज्यों में लॉकडाउन है। वहीं कई राज्य सरकारों ने कर्फ्यू लगा दिया है। कोरोना को लेकर जारी लॉकडाउन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग को खाली करा दिया है। पुलिस ने सुबह-सुबह पहुंच कर शाहीन बाग में लगे टेंट उखाड़ दिए हैं। इसके अलावा सीलमपुर में CAA को लेकर जो प्रदर्शन चल रहा था उसे भी खत्म करा दिया है।