Friday, 6 March 2020

RCB में शामिल इस धाकड़ आलराउंडर को खरीदना चाहती थी मुंबई इंडियंस, पैसे की पड़ गई कमी


RCB में शामिल इस धाकड़ आलराउंडर को खरीदना चाहती थी मुंबई इंडियंस, पैसे की पड़ गई कमी
Third party image reference
आईपीएल के पिछले कई सीजन में दिल्ली कैपिटल्स के लिए धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले क्रिस मॉरिस इस बार विराट कोहली के नेतृत्व वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए आईपीएल खेलते नजर आएंगे। साउथ अफ्रीका का यह खिलाड़ी आईपीएल के उन खिलाड़ियों में से एक है जो निचले क्रम में बल्लेबाजी करते हुए मैच का रुख बदल देता है। शायद इसी वजह से इन्हें इस बार आईपीएल में 10 करोड़ में खरीदा आरसीबी द्वारा खरीदा गया।
एरोन फिंच को खरीदना चाहती थी मुंबई इंडियंस

Third party image reference
क्रिस मॉरिस ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें कोई भी टीम अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाना पसंद करेगी शायद इसी वजह से मुंबई इंडियंस भी क्रिस मॉरिस को अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाना चाहती थी, लेकिन अगर हम कहें कि क्रिस मॉरिस को खरीदने के लिए मुंबई इंडियंस के पास पैसे नहीं थे तो आपको शायद अजीब लगेगा लेकिन बात यहीं थी। जब मुंबई इंडियंस क्रिस मॉरिस को खरीदने के लिए बोली लगा रही थी उस दौरान उनके पर्स में इतने पैसे नहीं थे कि वह आगे आरसीबी के सामने बोली लगा सकें।
मुंबई इंडियंस को पड़ गई पैसे की कमी

Third party image reference

Third party image reference
जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आईपीएल नीलामी के दौरान कोई भी टीम 80 करोड़ तक खर्च कर सकती है। जिसमें आगामी आईपीएल सीजन के नीलामी के वक्त मुंबई इंडियंस के पास 13.05 करोड़ रुपये बचे हुए थे। और उन्होंने ऑक्शन के शुरुआत में ही दो करोड़ में क्रिस लिन और 50 लाख में सौरभ तिवारी को खरीद लिया। अब मुंबई के पास 10.55 करोड मौजूद थे। नीलामी के दौरान आरसीबी ने क्रिस मॉरिस के लिए 10 करोड़ की बोली लगा दी। और मुंबई पीछे हट गई। शायद मुंबई को और खिलाड़ियों को अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाना था इसीलिए उन्होंने क्रिस मॉरिस पर अपने सभी पैसे खर्च करना सही नहीं समझा। इसके बाद मुंबई ने 8 करोड में नाथन कूल्टर नाइल को खरीदा एवं मोहसिन खान (20 लाख) और दिग्विजय सिंह (20 लाख) बलवंत राय 20 लाख को टीम का हिस्सा बनाया।