Tuesday, 31 March 2020

भाभी ने देवर का किया ऐसा हाल, रिश्ते हुए कलंकित

कोटा: राजस्थान के कोटा के दादाबाड़ी थाना इलाके में एक महिला ने अपने बेटे के साथ मिलकर अपने ही देवर की दर्दनाक हत्या कर दी. बेहद मामूली बात पर शुरू हुआ विवाद रिश्तों के हत्याकांड की खौफनाक तस्वीर में बदल गया.
मृतक देवर का जुर्म सिर्फ इतना था कि उसने अपनी भाभी के बेटे यानि अपने भतीजे को अपने घर पर खाना खिला दिया था और ये बात आरोपी भाभी को इतनी नागंवार गुजरी की वो आग बबूला हो उठी और उसने अपने बड़े बेटे के साथ मिलकर पत्थर से अपने देवर की सनसनीखेज हत्या कर दी.
कोटा के दादाबाड़ी थाना इलाके के बालाकुंड में भतीजे छोटू ने अपनी मां कांतिबाई के साथ मिलकर चाचा दिलीप की हत्या बुधवार देर रात को कर दी है. इस मामले में दादाबाड़ी थाना पुलिस ने कांतिबाई को राउंडअप कर लिया है. साथ ही उनके साथ पूछताछ की जा रही है. वहीं, मृतक दिलीप के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया था. जहां पर उसके पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है.
मामले के अनुसार कांतिबाई और छोटू बालाकुंड इलाके में रहते हैं. कांतिबाई के साथ छोटा बेटा कुलदीप भी रहता है. बुधवार दिनभर से कुलदीप, छोटू और कांतिबाई के बीच में विवाद चल रहा था. कुलदीप ने खाना भी नहीं खाया था. ऐसे में देर रात को कुलदीप के चाचा दिलीप ने उसे खाना खिलाया, तो इस बात से आगबबूला होकर कांतिबाई और छोटू, दिलीप के घर पर पहुंच गए. जहां पर पहले तो उनकी आपसी कहासुनी हुई. 
इसके बाद में कांतिबाई ने दिलीप को पकड़ लिया और छोटू ने पत्थर से उसके सिर पर वार कर दिया. जिसके चलते उसके सिर में गंभीर चोट लग गई और उसे घायल अवस्था में पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया. इस मामले पर पुलिस का कहना है कि उन्होंने छोटू और कांतिबाई के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है. 

साथ ही कांति बाई को हिरासत में भी ले लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. हालांकि, इस घटना के बाद पूरा परिवार स्तब्ध है. दिलीप के परिवार में केवल एक बेटी भी है शानू, जिसका बारां में विवाह हुआ था, उसको इस मामले की सूचना मिली तो रो-रो कर उसका बुरा हाल है. मोर्चरी के के बाहर में बार-बार बेहोश हो रही थी.