Friday, 27 March 2020

अलर्ट! लॉकडाउन में घर पर भूलकर भी न खोले इन वेबसाइट को, वरना होगा बड़ा नुकसान


नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) की वजह से घर में बैठे लोग आजकल इंटरनेट (Internet) पर जमकर सर्फिंग कर रहे है. ऐसे में साइबर क्राइम करने वाले नए-नए तरीके अपना रहे हैं. इसीलिए दिल्ली पुलिस के साइबर अपराध विभाग (Crime branch) ने आम जनता को अलर्ट करते हुुए कुछ वेबसाइट के लिंक जारी किए हैं. पुलिस का कहना है कि ये अपराधी इन वेबसाइट के जरिए आपकी निजी जानकारियां चुराकर आपके बैंक खाते से पैसे निकाल सकते हैं.

अगर आपके साथ कोई भी धोखाधड़ी हो तो आप इसकी शिकायत तुरंत साइबर सेल को कर सकते हैं. अगर आपके पास इस तरह का कोई भी ईमेल आता है तो आपको बिल्कुल डरने की जरूरत नहीं है. पिछले कुछ सालों में हुए किसी डेटा लीक में हो सकता है आपका पासवर्ड लीक हो गया हो. Sophos के प्रींसिपल रिसर्च साइंटिस्ट पॉल डकलिन ने कहा, कोई पैसा ना भेजें. ये सब झूठ है. इनके पास आपका कोई डेटा नहीं होता. अगर आप पैसा देते हैं तो आप उनको एक और मौका दे रहे हैं आपको डराने का.

दिल्ली पुलिस की ओर से जारी 'खतरनाक' कोरोनावायरस से संबंधित वेबसाइटों की सूची दी गई है. 
1. Coronavirusstatus(dot)space
2. Coronavirus-map(dot)com
3. Blogcoronacl.canalcero(dot)digital
4. Vaccine-coronavirus(dot)com
5. Coronavirus(dot)cc
6. Bestcoronavirusprotect(dot)tk
7. coronavirusupdate(dot)tk
8.Coronavirus(dot)zone
9. Coronavirus-realtime(dot)com
10. Coronavirus(dot)app
11. Bgvfr.coronavirusaware(dot)xyz
12. Coronavirusaware(dot)xyz
13. Corona-virus(dot)healthcare
14. Survivecoronavirus(dot)org

विदेशों में भी हो रही है ठगी

साइबर क्रिमिनल्स अब कोरोना वायरस (Coronavirus) के डर के जरिए दुनिया भर के लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं. वे कभी WHO अधिकारी बनकर ठगी करते हैं ,तो कभी कोविड-19 के नाम पर फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं.

अब उन्होंने एक नया तरीका भी ढूंढ लिया है. ब्रिटिश सिक्यॉरिटी सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर कंपनी Sophos की रिपोर्ट के मुताबिक, साइबर क्रिमिनल्स एक धमकी भरा ई-मेल भेजकर यह दावा कर रहे हैं कि अगर यूजर ने उन्हें पैसे नहीं दिए तो वे यूजर की फैमिली के किसी मेंबर को कोरोना वायरस से इनफेक्ट कर देंगे.'पैसे दो नहीं तो कोरोना लो'

अभी तक दुनिया भर में सेक्सटॉर्शन के ईमेल किए जाते थे. इसमें जालसाज दावा करता था कि उसके पास यूजर की कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें हैं और अगर यूजर उसे पैसे नहीं देता है तो वे तस्वीरें उसके परिवार वालों और दुनिया भर के लोगों को भेज दी जाएगी.

लेकिन अब नए ट्रेंड में जालसाजों ने कोरोना वायरस के डर को अपना जरिया बनाया है. साइबर क्रिमिनल ईमेल भेजकर 4000 डॉलर बिटकॉइन के रूप में मांग रहे हैं, नहीं तो यूजर के राज उजागर करने और परिवार के सभी सदस्य को कोरोना वायरस से ग्रसित करने की धमकी दे रहे हैं. ईमेल में यूजर को उसका पुराना पासवर्ड भी बताया जाता है. जालसाज दावा करते हैं कि उन्हें यूजर के सभी पासवर्ड पता हैं और वे यूजर पर लंबे समय से नजर रखे हुए थे.