Monday, 16 March 2020

निर्भया केसः आज से चौथे दिन होगी दोषियों को फांसी, इस बार तीन दिन पहले ही तिहाड़ पहुंचेगा जल्लाद पवन


जयपुर, निर्भया गैंग रेप के सभी चार आरोपियों की फांसी की तारीख 20 मार्च तय की गई है। जिसके लिए आरोपी पवन 17 मार्च को तिहाड़ जेल पहुंचेंगे। सभी चार आरोपियों को पूर्व में तीन बार फांसी दी जा चुकी है। निर्भया के दोषियों ने पहले सुप्रीम कोर्ट, पटियाला हाउस कोर्ट से राष्ट्रपति भवन तक मदद की गुहार लगाई है।
हालांकि, अब तिहाड़ जेल प्रशासन ने 3 मार्च को फांसी की तैयारी कर ली है। इसके लिए, इन चार दोषियों के एक डमी रूप का अध्ययन किया गया है। हालांकि, यह तीसरी बार है कि आरोपी को तिहाड़ जेल में फांसी के लिए बुलाया गया है। अगर इस बार कोई बाधा नहीं आई तो चारों को 20 मार्च की शाम 5:30 बजे फांसी दी जाएगी।
20 मार्च की सुबह 6 बजे निर्भया के अपराधियों को फांसी दी जाएगी। दिल्ली की पटियाला अदालत ने एक नए डेथ वारंट की घोषणा की है। वर्तमान में अभियुक्तों के लिए उपलब्ध सभी कानूनी विकल्प भी पूरे हो चुके हैं। अपराधियों के वकील एपी सिंह ने कहा, "एक चौथी मौत का वारंट जारी किया गया है।"
इन चारों को 2013 में फांसी दी गई थी। जिसके बाद हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने भी फांसी की सजा सुनाई। पुनर्विचार याचिका में चार दोषियों को मौत की सजा भी सुनाई गई थी। क्यूरेटिव पिटीशन खारिज होने पर भी मौत की सजा बरकरार रखी गई थी। दया याचिका खारिज होने पर भी मौत की सजा दी गई थी।
मैं जानना चाहता हूं कि मौत की सजा को कितनी बार अंजाम दिया जाएगा। अपना गुस्सा जाहिर करते हुए वकील एपी सिंह ने कहा, "ये लोग शिक्षित हैं। जेल में सुधार। खुद को बदल रहे हैं। यह चौथा डेथ वारंट है। जिसकी घोषणा 20 तारीख के लिए की गई है।