Sunday, 29 March 2020

कोरोना ने सब कुछ बर्बाद कर दिया, सदमे में आए वित्त मंत्री ने कर ली आत्महत्या,जानिए

कोरोना ने सब कुछ बर्बाद कर दिया, सदमे में आए वित्त मंत्री ने कर ली आत्महत्या,जानिए
दुनियाभर में कोरोना का खौफ और रौब दोनों ही अपने चरम पर पहुंच चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक, लाखों लोग इस वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं तो वहीं हजारों की संख्या में यह वायरस लोगों को मौत की नींद सुला चुका है। इस कोरोना की दहशत से पूरी दुनिया अब खामोश हो चुकी है। वीरान हो चुकी है। इंसान अब इंसान से परहेज करने लगा है। कोरोना के कहर के चलते सभी देशों की अर्थव्यवस्था को आर्थिक तौर पर काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
इसी बीच जर्मनी से कोरोना के कहर के बीच एक दुखद खबर सामने आई है। खबर है कि जर्मनी के हेसे राज्य के वित्त मंत्री थॉमस शाएफर ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली है। सूत्रों के मुताबिक, उनका शव रेल के पटरी के पास पड़ा हुआ मिला है, जिससे यह कयास लगाए जा रहा है कि उन्होंने रेल की पटरी के सामने आकर आत्महत्या कर ली। मिली जानकारी के मुताबिक, कोरोना के कहर के चलते हेसे राज्य सहित पूरे जर्मनी की अर्थव्यवस्था को आर्थिक तौर पर खासा नुकसान का सामना करना पड़ रहा था, जिसके चलते वे बतौर वित्त मंत्री काफी तनावग्रस्त चल रहे थे, जिसके बाद कथित तौर पर अब उन्होंने यह भयावह कदम अख्तियार किया है। सूत्रों के मुताबिक, उनका शव शनिवार को रेल की पटरी के पास मिला।
यहां पर हम आपको बताते चले कि 54 वर्षीय थॉमस शाएफर का शव रेल पटरी के पास मिला है। वीसबैडेन अभियोजक के कार्यालय ने मंत्री द्वारा आत्महत्या किए जाने की आशंका जताई है। हेसे के मुख्यमंत्री वॉल्कर बॉफियर ने एक बयान में कहा, ‘हम स्तब्ध हैं. हमें विश्वास नहीं हो रहा और हम अत्यंत दुखी हैं। बता दें कि थॉमस जर्मनी के हेसे राज्य के वित्त मंत्री थे। वित्त मंत्री का आत्महत्या की खबर से पूरे देश में शोक की लहर है।
एंजेला मार्केला ने जताया दुख
वहीं वित्त मंत्री एंजेला मार्केल के निकट सहयोगी बॉफियर ने कहा, ‘आज हमें यह मानना होगा कि वह बेहद चिंतित थे. विशेषकर इस मुश्किल समय में हमें उनके जैसे ही व्यक्ति की आवश्यकता थी.’ शाएफर के परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं। गौरलब है कि अभी पूरे विश्व में कोरोना का कहर अपने चरम पर पहुंच चुका है। लोग दहशत भरे आलम
में जीने पर विविश हो चुके हैं। अभी तक संक्रमितों की संख्या लाखों तक पहुंच चुकी है तो वहीं मौत का आंकड़ा 20 हजार तक पहुंच चुका है। वहीं कोरोना का ताण्डव भारत में भी अपने चरम पर पहुंच चुका है। यहां पर भी 900 से अधिक लोग इससे संक्रमित पाए जा चुके हैं तो वहीं मौतों का सिलसिला भी जारी है। फिलहाल, केंद्र सरकार ने इस पर अंकुश लगाने की दिशा में आगामी 21 दिनों तक लॉकडाउन का एलान किया हुआ है।