Tuesday, 17 March 2020

5 भारतीय खिलाड़ी खेल चुके हैं अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच, वापसी की उम्मीद छोड़ ले लेना चाहिए संन्यास

टीम इंडिया मौजूदा वक्त में तीनों फॉर्मेट में मजबूत है. टीम में कई मैच विनर खिलाड़ी मौजूद हैं, जो टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकालकर जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाते हैं. मगर खराब फॉर्म या किसी अन्य कारण के चलते कई खिलाड़ियों को वक्त से पहले ही टीम से बाहर का रास्ता देखना पड़ता है.
तो आइए इस आर्टिकल में ऐसे 5 भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जिन्होंने अभी तक संन्यास का ऐलान तो नहीं किया है लेकिन परिस्थितियों को देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि वह अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं यानि अब शायद ही उन्हें टीम इंडिया की तरफ से खेलने का मौका मिले.

5 भारतीय खिलाड़ी खेल चुके हैं अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच

1- केदार जाधव

5 भारतीय खिलाड़ी खेल चुके हैं अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच, वापसी की उम्मीद छोड़ ले लेना चाहिए संन्यास

टीम इंडिया के स्पिन ऑलराउंडर खिलाड़ी केदार जाधव उन खिलाड़ियों की लिस्ट में शुमार हैं जो टीम में कभी अपनी स्थायी जगह नहीं बना सके और अंदर-बाहर होते रहे हैं. जाधव ने नवंबर 2014 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय डेब्यू मैच खेला.
केदार जाधव ने भारत के लिए 52 मैचों में बल्लेबाजी की. इसमें इनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ 120 रनों की शानदार पारी खेलते हुए विराट कोहली के साथ शानदार साझेदारी की. जाधव की इस पारी ने टीम इंडिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी.
केदार जाधव, कप्तान को बल्लेबाजी के अलावा एक अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प भी उपलब्ध कराते हैं. मगर पिछले कुछ वक्त में जाधव के प्रदर्शन में लगातार गिरावट ही आई है. विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ उनकी अर्धशतकीय पारी की काफी आलोचना की गई थी.
आंकड़ों की बात करें तो केदार जाधव ने 73 एकदिवसीय मैचों में 42.09 के औसत के साथ 1389 रन बनाए. इसमें 2 शतक व 6 अर्धशतकीय पारी खेली हैं. जाधव ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ फरवरी में खेला था जहां वह 9 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे. अब टीम की मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा कि अब शायद ही उन्हें टीम में खेलने का मौका मिले.