Tuesday, 24 March 2020

बतौर कप्तान धोनी ने लिए ये 4 फैसले जो हुए गलत साबित, नंबर-4 के कारण रोया पूरा देश

महेंद्र सिंह धोनी आज तक भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं। जिनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने आईसीसी के तीनों खिताब के साथ साथ और भी अहम मुकाबले जीते हैं।

बतौर कप्तान धोनी ने लिए ये 4 फैसले जो हुए गलत साबित, नंबर-4 के कारण रोया पूरा देश
COPYRIGHT HOLDER: CRICRAH
बता दें कि, बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के द्वारा लिए गए अधिकतर फैसले सही ही साबित हुए। लेकिन कई फैसले ऐसे भी रहे जो गलत साबित हुए।

1. इरफान पठान की बल्लेबाजी में बदलाव :-


COPYRIGHT HOLDER: JANVI TOP TRENDS
धोनी ने अपनी कप्तानी में इरफान पठान की बल्लेबाजी क्रम में बहुत बदलाव किए। कभी उन्हें नंबर-3 पर उतारा तो कभी उन्हें बतौर सलामी बल्लेबाज आजमाया। जिस कारण इनका परफॉर्मेंस खराब रहा और उन्हें टीम से बाहर होना पड़ा।

2. इस गेंदबाज को बार बार मोके देना :-


COPYRIGHT HOLDER: JANVI TOP TRENDS
महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में तेज गेंदबाज मोहित शर्मा के फ्लॉप होने के बाद भी बहुत ज्यादा मौके दिए।

3. 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इशांत को गेंद सौंपना :-


COPYRIGHT HOLDER: JANVI TOP TRENDS
मोहाली में खेले गए इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 3 ओवर में 44 रन की दरकार थी। इस दौरान धोनी ने इशांत शर्मा पर भरोसा जताया जो कि पहले ही रन लुटा चुके थे और उन्होंने 48वे ओवर में भी 30 रन लुटाये। जिससे भारत को यह मुकाबला हारना पड़ा।

4. टी20 विश्वकप 2014 में श्रीलंका के खिलाफ युवराज को मौका देना :-


Third party image reference
इस मुकाबले में धोनी ने खराब फॉर्म में चल रहे युवराज सिंह को टीम में मौका दिया। और युवराज ज्यादा गेंद में कम रन ही बटोर पाए। जिसकी वजह से भारत को दूसरी बार विश्व चैंपियन बनने से चूक गई। उनके इस फैसले ने कई क्रिकेट फैंस को रुला दिया।
क्या महेंद्र सिंह धोनी की टी20 विश्वकप के लिए टीम में वापसी होनी चाहिए? कमेंट करके हमें अपनी राय जरूर बताएं। क्रिकेट से जुड़ी ऐसी ही खबरों के लिए हमें फॉलो करना न भूलें।