Friday, 14 February 2020

बिहार में कुछ भी संभव है, टॉयलेट और बाथरूम का हुआ तबादला


बिहार में कुछ भी संभव है, टॉयलेट और बाथरूम का हुआ तबादला
Third party image reference
अफसरशाही जो न करा दे और वह भी सुशासन के राज में. सरकार बिहार में कैसे चल रही है, इसकी बानगी बार-बार देखने को मिलती है. वैसे कहा तो यह जाता है कि बिहार में सब कुछ संभव है. अब नया मामला तबादला का है. जानकर हैरान हो जाएंगे. बहुत सारे लोग यकीन नहीं करेंगे लेकिन सच ऐसा ही है. बिहार में टॉयलेट व बाथरूम का भी तबादला कर दिया गया है. दरअसल, अभी तक तो अफसरों और कर्मचारियों के तबादले होते रहे हैं. लेकिन नई बात यह है कि अब शौचालय और बाथरूम का भी ट्रांसफ्र होने लगा है. यह जानकारी गृह विभाग के एक पत्र से मिलती है. उप निदेशक ब्रजेश कुमार के हवाले से जारी यह पत्र राज्य के पुलिस महानिदेशक को संबोधित है. इसे कुछ दिन पहले जारी किया गया है.
पत्र के मुताबिक पटना एअरपोर्ट थाना में महिलाओं के लिए स्वीकृत दो अदद शौचालय (टॉयलेट) और स्नानागार (बाथरूम) अब सलिमपुर ओपी में बनेंगे. इस थाना से सलिमपुर ओपी की दूरी करीब चालीस किलोमीटर है. यह पटना-बख्तियारपुर फोर लेन पर है. इसी तरह खगडिय़ा जिला के मोरकाही थाना के लिए स्वीकृत शौचालय और स्नानागार का निर्माण सहायक थाना चित्रगुप्तनगर में किया जाएगा. वजह बताई गई है कि दोनों थाना में शौचालय-स्नानागार के लिए जमीन उपलब्ध नहीं है.

Third party image reference
हालांकि दोनों थाना में महिला पुलिसकर्मियों के लिए शौचालय-स्नानागार नहीं है. इन्हीं के लिए इन थानों में टॉयलेट और बाथरूम के निर्माण की स्वीकृति दी गई थी. एअरपोर्ट थाना में दो महिलाएं तैनात हैं. एक अधिकारी और एक कांस्टेबल. जरूरत पडऩे पर इन्हें भी सामान्य शौचालय का ही इस्तेमाल करना पड़ता है. इस थाना में आने वाली महिला फरियादियों को भी परेशानी उठानी पड़ती है. एयरपोर्ट थाना की अपनी जमीन नहीं है. यह पशुपालन विभाग की जमीन पर चल रहा है. 
महिला पुलिसकर्मियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने पंद्रह जनवरी 2019 को 27 जिलों के 97 थानों में दो-दो शौचालय और स्नानागार के निर्माण की मंजूरी दी थी. इसी के तहत एयरपोर्ट और मोरकाही थाना के लिए भी आबंटन किया गया था. लेकिन, जमीन की कमी के कारण इन थानों में तैनात महिला पुलिसकर्मियों की समस्या का निदान नहीं हो पाया और सरकार ने टॉयलेट और बाथरूम का भी तबादला कर डाला. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).