Tuesday, 28 January 2020

पेट खाली करने का सबसे शानदार नुस्खा, इसे अपनाने के बाद आप बोलेंगे- बाथरूम में मजा आ गया

आजकल के लाइफस्टाइल में आए दिन लोग अपनी गलत खानपान और भागदौड़ भरी दिनचर्या में ब्यस्त रहते हैं और इस दौरान आधे से ज्यादा लोगों को पेट से संबंधी समस्याओं का होना आम बात है, जिसमें गैस, कब्ज एसिडिटी भी शामिल है। जी हां यह समस्याएं जीवनशैली से प्रभावित हैं, इससे लिए कई लोग दवाईयों का प्रयोगे करते हैं लेकिन ये कुछ समय के लिए ही असर करता है और इसके अलावा कई अन्य तरह की बिमारियां भी हो जाती है। इस समस्या में अधिक पानी, फल और सब्जी व फाइबर व होल व्हीट का सेवन बढ़ाकर राहत पाई जा सकती है।
बहुत से लोगों को अपने आहार में इस तरह से परिवर्तन करने पर आराम मिल जाता है। लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि ये तरीका काम नहीं करता पर अगर आपको आहार में परिवर्तन से आराम न मिले तो आपको कुछ नुस्खे आजमाने पड़ेगे जिससे आपका पेट साफ हो जाएगा। आज हम आपको ऐसे ही घरेलु उपाय बताने जा रहे हैं जिसे अपनाने से आपके पेट का सारा मल चिकनाई के रास्ते बाहर आ जाएगा और पेट एकदम दुरुस्त हो जाएगा। ध्यान दें की आज हम आपको जितने भी उपाय बताएंगे उससे पेट का रास्ता एकदम साफ हो जाएगा
1. सबसे पहला उपाय तो ये है की सोंठ का चूर्ण आधा चम्मच, जावित्री आधा चम्मच, एलोवेरा के 10 ग्राम गूदे के साथ अगर हर रोज सेवन करते हैं तो महज 2 महीने में रोग ठीक हो जाता है।
2. इसके अलावा अगर आप चाहे तो मेथी दाना दो चम्मच, एलोवेरा का रस 4 चम्मच को मिलाकर हर रोज पीने से सभी वात रोग ठीक हो जाते हैं।
3. इसके अलावा अगर आप चाहे तो गेहूं की रोटी में एलोवेरा का गूदा मिलाकर हर रोज सुबह बासी रोटी बिना चुपड़ी खाने से पेट की वायु एवं वात रोग शीघ्र ही शांत होने लगते हैं।
4. वहीं बताया तो ये भी जाता है की अगर वात रोग से पीडि़त है तो मेथी दाना चूर्ण 100 ग्राम, सोंठ 50 ग्राम, देसी घी 100 ग्राम, तथा पीपल, काली मिर्च, धनिया, पीपरामूल, दालचीनी और नागरमोथा 10-10 ग्राम लेकर सभी चीजों को कूट-पीसकर फिर इसमें 200 ग्राम एलोवेरा का गूदा मिलाकर गर्म करें और फिर इसे देसी घी में भून लें ठंडा हो जाने पर 20-20 ग्राम के लडडू बना लें। अगर आप ये रोज एक लडडू खाने से शरीर में सूजन वात रोग, वात विकार पेट की गैस आदि रोग जड़ समेत मिट जाते है।
5. ऐसे में आप 10 ग्राम चोपचीनी, 2 ग्राम पिपरामूल और 10 ग्राम एलोवेरा का गूदा मिलाकर सुबह शाम से वात रोग जैसी समस्याओं से तुरंत निजात मिलेगा।
ध्यान रहे ये सारे नुस्खे हमारे आयुर्वेद में बताए गए है और इसे एक साथ न आजमाएं आप चाहें तो इसे एक एक करके आजमा सकते हैं। आपको इनमें से जो भी आसान लगे आप उसी नुस्खे को आजमाएं।