Saturday, 25 January 2020

मृत्यु के बाद शव को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता हैं ? सच्चाई जानकर आप भी चौंक जाएंगे

Image result for मृत्यु के बाद शव को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता हैं ?
मृत्यु हमारे जीवन की सबसे बड़ी सच्चाई है। इंसान की मृत्यु को ना तो कोई रोक सकता है और ना ही कोई मृत्यु के समय को बदल सकता है। इस धरती पर जिस जीव ने जन्म लिया है उसकी मृत्यु एक दिन निश्चित होगी। हिंदू धर्म में किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके शव की शव यात्रा निकाली जाती है। और इसके बाद शव का दाह संस्कार किया जाता है। लेकिन हिंदू धर्म में जब किसी व्यक्ति की मृत्यु शाम को या रात को होती है तो उसके शव को घर पर ही रखा जाता है। और रात भर शव की रखवाली करते हैं। ऐसा क्यों किया जाता है ? आइए विस्तार से जानते हैं। मृत्यु के बाद शव को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है ? सच्चाई जानकर आप भी चौंक जाएंगे।

Third party image reference
हिंदू धर्म में किसी व्यक्ति की मृत्यु शाम को या रात के समय होने पर उसका दाह संस्कार नहीं करने का नियम है। रात भर शव को घर पर ही रखकर रखवाली करते हैं। ऐसा इसलिए किया जाता है कि हिंदू धर्म में सूर्यास्त के बाद शव का दाह संस्कार नहीं करने का नियम बना हुआ है। इसलिए शव को तुलसी के पौधे के पास रखकर रखवाली की जाती है।

Third party image reference
शव की रखवाली के लिए शव के पास कोई ना कोई व्यक्ति रात भर मौजूद रहता है। ताकि कोई भी जानवरों या कीड़ा शव को नुकसान नहीं पहुंचाए। इसके अलावा शव के पास धूपबत्ती या अगरबत्ती भी जलाते हैं। ताकि शव से दुर्गंध नहीं आए।