Wednesday, 11 December 2019

Ranji Trophy: पृथ्‍वी शॉ के दोहरे शतक से टेस्‍ट टीम में रोहित-मयंक के लिए बजी खतरे की घंटी


बैन के बाद वापसी के साथ ही भारतीय टीम में सलामी बल्‍लेबाज की भूमिका निभा चुके पृथ्‍वी शॉ (Prithvi Shaw) ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy 2019) मुकाबले में शानदार दोहरा शतक जड़ा. पृथ्‍वी शॉ के फर्स्‍ट क्‍लास करियर का यह पहला दोहरा शतक है. मुंबई के इस बल्‍लेबाज ने बड़ौदा के खिलाफ मुकाबले में 174 गेंद पर पर 202 रन की पारी खेली. मैच की पहली पारी के दौरान भी पृथ्‍वी 66(62) ने अर्धशतक जड़ा था.
पृथ्‍वी शॉ की इस पारी में भारतीय टेस्‍ट टीम के सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल के कान खड़े कर दिए हैं. मयंक और रोहित दोनों ही इस वक्‍त शानदार फॉर्म में चल रहे हैं.
चोटिल शिखर धवन की जगह मयंक अग्रवाल वनडे टीम में हुए शामिल
पृथ्‍वी ने पिछले साल वेस्‍टइंडीज के भारत दौरे के दौरान ही टेस्‍ट डेब्‍यू किया था. अपने पहले ही मैच में शतक जड़ने वाले पृथ्वी इस सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज बने. इसके बाद ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर चोट के चलते शुरुआत में ही वापस देश लौट गए थे.
आइपीएल 2019 के बाद पृथ्‍वी पर डोपिंग मामले में आठ महीने का प्रतिबंध लगा, जिसके कारण वो वेस्‍टइंडीज, साउथ अफ्रीका और बांग्‍लादेश के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में नहीं खेल पाए.
पृथ्‍वी की गैर मौजूदगी में ही रोहित शर्मा को टेस्‍ट क्रिकेट में बतौर सलामी बल्‍लेबाज मौका मिला. एक के बाद एक बड़ी पारियां खेलकर उन्‍होंने टेस्‍ट टीम में अपनी जगह बनाई. इसी तरह मयंक अग्रवाल ने भी बांग्‍लादेश के खिलाफ दोहरा शतक जड़ टेस्‍ट टीम में अपनी जगह मजबूत की. शानदार प्रदर्शन के बल पर ही मयंक अग्रवाल को चोटिल शिखर धवन के रिप्‍लेसमेंट के रूप में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ वनडे टीम में मौका दिया गया है.
अब पृथ्‍वी घरेलू क्रिकेट में दोहरे शतक के साथ एक बार फिर राष्‍ट्रीय टीम का दरवाजा खटखटा रहे हैं. बैन के बाद पृथ्‍वी ने पिछले महीने सैय्यद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी के बीच में क्रिकेट की दुनिया में वापसी की थी. इस दौरान उन्‍होंने छह टी20 मैचों में तीन अर्धशतक जड़े थे. माना जा रहा है कि पृथ्‍वी को अगले महीने न्‍यूजीलैंड दौरे पर टेस्‍ट टीम में जगह मिल सकती है.