Saturday, 7 December 2019

ये हैं हैदराबाद के वह पुलिस कमिश्नर, जिन्होंने चारों आरोपियों का एनकाउंटर किया

हैदराबाद हत्याकांड के बाद पूरा देश आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त सजा की मांग कर रहा था इसी बीच 6 दिसंबर को सुबह 4:00 बजे के करीब पुलिस ने चारों आरोपियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया है। आपको बता दें कि शुक्रवार सुबह पुलिस क्राइम सीन को दोहराने के लिए इन चारों आरोपियों को घटनास्थल पर ले जा रही थी, तभी इन्होंने भागने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस को इन्हें रोकने के लिए गोली चलानी पड़ी।

Third party image reference
जब यह नहीं रुके तो पुलिस ने चारों आरोपियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया इस एनकाउंटर के बाद देशभर के लोग हैदराबाद पुलिस की जमकर तारीफ कर रहे हैं। हालांकि इस एनकाउंटर में सबसे ज्यादा तारीफ साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार की हो रही है।
क्यों हो रही है इनकी तारीफ

Third party image reference
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारों आरोपियों के एनकाउंटर में मुख्य भूमिका कमिश्नर वीसी सज्जनार ने निभाई है, इन्होंने ही इस केस को लीड किया था। महिला डॉक्टर के हत्या की घटना के बाद वीसी सज्जनार ने मीडिया के सामने कहा था कि वह आरोपियों को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे डाल देंगे और महज 3 दिन के भीतर ही पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।
इसके बाद शुक्रवार सुबह 3:00 बजे के आसपास इन चारों आरोपियों को क्राइम्स इंदौर आने के लिए घटनास्थल पर ले जाया गया जहां पर इन आरोपियों ने भागने की कोशिश की लेकिन तुरंत ही पुलिस ने एक्शन लिया और इन चारों का एनकाउंटर कर दिया।
एनकाउंटर स्पेशलिस्ट कहे जाते हैं सज्जनार

Third party image reference
पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जन आर को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट भी कहा जाता है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले भी वीसी सज्जनार इसी तरह की एक घटना में तीन आरोपियों को एनकाउंटर में ढेर कर चुके हैं।
2008 में आंध्र प्रदेश पुलिस ने वारंगल शहर में तीन लोगों को इंजीनियरिंग की दो छात्रा पर कॉलेज से लौटते वक्त तेजाब फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया था। इस घटना के विरोध में भी लोगों ने काफी प्रदर्शन किया था इसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ में इन तीनों आरोपियों को मार गिराया था, हालांकि हैदराबाद के एनकाउंटर को लेकर कुछ लोग सवाल भी उठा रहे हैं।