Monday, 16 December 2019

क्या आपको पता है, विदेशी जमीन पर भारत के लिए किस खिलाड़ी ने लगाया था पहला शतक, जानें यहां

क्या आपको पता है कि विदेशी जमीन पर भारतीय टीम की ओर से किस खिलाड़ी ने पहला शतक लगाया था। सैयद मुश्ताक अली एक भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी थे, जिन्होंने विदेशी जमीन पर टेस्ट क्रिकेट में भारत की ओर से पहला शतक लगाया था। टेस्ट क्रिकेट में भारत के शुरुआती दिनों में वह सबसे तेजतर्रार बल्लेबाजों में से एक थे और उन्होंने क्रिकेट पर एक अमिट छाप छोड़ी।
भारतीय क्रिकेट को दिए गए उनके योगदान के लिए बीसीसीआई उनके नाम पर घरेलू क्रिकेट सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का आयोजन करती है। सैयद मुश्ताक अली का जन्म 17 दिसंबर 1914 को मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था और उन्होंने 18 जून 2005 को इंदौर में ही अंतिम सांस ली थी।
सैयद मुश्ताक अली को विदेशी जमीन पर पहला शतक जमाने वाले भारतीय क्रिकेटर के रूप में जाना जाता है। उन्होंने 25 जुलाई 1936 को इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड ग्राउंड में 112 रनों की पारी खेली थी। मुश्ताक अली ने उस मैच में विजय मर्चेंट के साथ मिलकर 203 रन जोड़े थे और मैच ड्रॉ कराने में अहम भूमिका निभाई थी।
सैयद मुश्ताक अली ने भारतीय टीम के लिए 11 टेस्ट मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने 32.21 की औसत से 612 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने दो शतक और तीन अर्धशतक भी लगाए थे। उन्होंने गेंदबाजी में भी तीन विकेट हासिल किए थे।
सैयद मुश्ताक अली ने 46 टीमों के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला था। उन्होंने साल 1930-31 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू किया और 49 साल की उम्र में साल 1963-64 में आखिरी फर्स्ट क्लास मैच खेला। उन्होंने 226 फर्स्ट क्लास मैचों में 35.9 की औसत से 13213 रन बनाए। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में मुश्ताक अली के नाम 30 शतक और 63 अर्धशतक दर्ज है।