Sunday, 15 December 2019

यह था भारतीय इतिहास का सबसे अय्याश राजा,जानिए इसकी अय्याशीयो के बारे में आपकी नजर में कौनसा राजा था सबसे अय्याश ?

यह है भारत का सबसे अय्याश राजा इसके कारनामे जानकर उड़ जाएंगे होश।
भारत के इतिहास में कई ऐसे राजा हुए हैं जिनका इतिहास आपने पढ़ा होगा लेकिन आज जिस राजा के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं उस राजा के बारे में आप शायद ही जानते होंगे।


इस राजा की अय्याशी के बारे में इसी बात से पता लगा सकते हैं कि इसके महल में जो लोग जाते थे वह बिना कपड़ों के ही जाते थे क्योंकि कपड़े पहनकर जाने की इजाजत केवल राजा को ही थी।
पटियाला रियासत के महाराजा भूपिंदर सिंह इनके कारनामें जानकर आपका दिमाग चकरा जाएगा जनाब के कारनामों के बारे में उनके ही दीवान जरमनी दास ने अपनी किताब 'महाराजा' में पूरा विवरण दिया है किताब के मुताबिक, महाराजा भूपिंदर सिंह ने पटियाला में 'लीला-भवन' या कह लीजिए रंगरलियों का महल बनवाया था, जहां केवल बिना कपड़ों के लोगों को अंदर आने की इजाज़त थी ये महल पटियाला शहर में भूपेंद्रनगर जाने वाली सड़क पर बाहरदरी बाग के पास है।


इसके अलावा किताब में लिखा गया है कि इस महल में एक ऐसा कमरा भी था जो राजा के लिए सुरक्षित था इस कमरे की दीवारों पर चारों तरफ स्त्री और पुरुष की वासना की तस्वीरें लगी हुई थी और इसी कमरे में एक बहुत ही बड़ा स्विमिंग पूल भी था जिसमें 100 से डेढ़ सौ महिलाएं एक साथ स्नान कर सकती थी।


12 अक्तूबर 1891 को जन्में महाराजा भूपिंदर सिंह ने 38 सालों तक राज किया। महाराजा साहब के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने 10 से ज़्यादा शादियां की थी। यही नहीं आप ये जानकर हैरान रह जाएंगे कि उनके करीब 88 बच्चे थे। शराब के शौकीनों के बीच मशहूर पटियाला पैग भी महाराजा भूपिंदर सिंह की ही देन है।