Tuesday 3 December 2019

हैदराबाद केस के आरोपियों को आखिर क्यों परोसी जा रही है मटन करी ?


Third party image reference
The Fact India : एक तरफ जहां हैदराबाद रेप और मर्डर केस (Hyderabad rape) से पूरी दुनिया गम के माहौल में डूबी हुई है, कई जगह पर इसका विरोध हो रहा है। लोग सड़कों पर आकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों की मांग है कि जिन अपराधियों ने ऐसा घिनोना काम किया है उन्हें फांसी की सजा दी जाए। लेकिन वहीं दूसरी तरफ एक और तस्वीर सामने आई है। प्रियंका रेड्डी के साथ निर्ममता करने वाले चारों आरोपियों को जेल में ऐश की ज़िंदगी दी जा रही है।
जी हां, उन आरोपियों को लंच में दाल चावल और डिनर में मटन करी परोसी जा रही है। जेल मेनुअल हिसाब से ही इन्हे ये खाना दिया जा रहा है। बता दें की हैदराबाद में चार लोगों ने महिला डॉक्टर के साथ पहले रेप किया फिर उसकी बॉडी को जला कर फेंक दिया। अगले दिन सुबह जब पोलिकवे को इस बात की जानकारी मिली तो वो मौका ए वारदात पर पहुंची और बॉडी की शिनाख्त की, और इस केस की तहकीकात में जुट गई।
बता दें आरोपियों ने जानबूझकर उस महिला की स्कूटी पंचर की थी। जब महिअ ने उनसे मदद मांगी तो वो उसे कहीं और ले गए फिर रेप किया और बाद में उसका मर्डर कर दिया। पुलिस ने आरोपियों की पहचान ट्रक चालाक मोहमद आरिफ, ट्रक चालाक चिन्ताकुंता, चेन्नकेशवुलु , क्लीनर जोलूशीवा और जोलु नवीन के तोर पर की है। बता दें इनमे आरिफ की उम्र 26 साल है बाकि तीनो आरोपियों की उम्र 20 साल की है। लेकिन सवाल ये है कि अखिर जेल में उन आरोपियों को जिन्होंने इतना घिनोना काम किया है उन लोगो को खाने में मटन करी जैसा खाना क्यों परोसा जा रहा है. उनके साथ ऐसा व्यवहार करना उस महिला के साथ अन्याय ही है।