Friday, 6 December 2019

क्या आप जानते हैं रतनजोत के फायदों के बारे में


क्या आप जानते हैं रतनजोत के फायदों के बारे में
Third party image reference
कई अध्‍ययनों से पता चलता है कि यह औषधीय गुणों से भरपूर होता है। जिसके कारण यह कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को प्रभावी रूप से दूर कर सकते हैं। औषधीय लाभ प्राप्‍त करने के लिए इस पौधे के लगभग सभी हिस्‍सों का उपयोग किया जा सकता है। लेकिन विशेष रूप से इसकी जड़ का उपयोग सबसे ज्‍यादा होता है। आइए विस्‍तार से जानते हैं इसके फायदे और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्‍या हैं।

Third party image reference
1. दिल के लिए: इसमें उपस्थित तत्व शरीर में मौजूद उन विषाक्‍त पदार्थों को दूर करते हैं जो हृदय समस्‍याओं का कारण हो सकते हैं। इसके लिए आप पानी में रतनजोत की जड़ को कुछ देर के लिए भीगने दें और फिर इस पानी का सेवन करें। ऐसा करने से यह शरीर से विषाक्‍तता को बाहर निकालने और रक्‍त को अवशोषित करने के लिए दिल की कार्य क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। जिससे आप अपने हृदय को स्‍वस्‍थ रख सकते हैं।
2. वजन कम करने में: इसके लिए आप नियमित रूप से इसकी जड़ के पाउडर का सेवन करें। ऐसा करने से आपके शरीर में बिना किसी दुष्‍प्रभाव के वजन को कम करने में मदद मिल सकती है।

Third party image reference
3. ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करे: इसकी जड़ में हाइपो-टेंस प्रभाव होता है जो आपकी हृदय प्रणाली को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है। जिससे आप उच्‍च रक्‍तचाप की समस्‍या को नियंत्रित कर सकते हैं। इसके अलावा यह रक्‍तवाहिकाओं में अवरोध को रोकने में मदद करते हैं। जिससे हार्ट अटैक की संभावना को कम किया जा सकता है।
4. बुखार कम करे: इससे शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। यही कारण है कि आयुर्वेद पारंपरिक चिकित्‍सा में बुखार का उपचार करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। इसके अलावा इसमें पसीने को प्रेरित करने वाले गुण भी होते हैं। जिससे फीवर से ग्रसित व्‍यक्ति की उपचार प्रक्रिया को तेज करने में मदद मिलती है। क्‍योंकि पसीने के माध्‍यम से बैक्‍टीरिया और शरीर के तापमान को बाहर निकालने में मदद मिलती है।

Third party image reference
5. गठिया के लिए: इसके उपचार के लिए इसके तेल का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। दर्द प्रभावित क्षेत्र पर रतनजोत के तेल से मालिश करने पर नसों को आराम मिलता है जिससे दर्द के प्रभाव को कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा आप नियमित रूप से इसके रूट पाउडर का सेवन भी कर सकते हैं। जो आपको भविष्य में गठिया से संबंधित समस्‍याओं से बचा सकता है।
6. सिर दर्द दूर करे: इसमें एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं जो शरीर में उचित रक्‍त परिसंचरण को बनाए रखने में सहायक होते हैं। शरीर में उचित रक्‍त प्रवाह न होने के कारण ही शरीर और सिर में दर्द हो सकता है। यदि आप भी इस समस्‍या से परेशान हैं तो इसकी जड़ का उपयोग कर सकते हैं। इसके साथ ही यह माइग्रेन की समस्‍या को भी दूर कर सकता है।
7. स्कार्स के लिए: इसमें त्‍वचा को साफ करने की क्षमता होती है। इसलिए इसका उपयोग कई फेस मास्‍क और चेहरे की सफाई करने वाले उत्‍पादों में प्रमुख रूप से किया जाता है। इसकी रूट त्‍वचा को कई प्रकार के संक्रमण से बचा सकती है। क्‍योंकि इसकी प्रकृति एंटी-इंफ्लामेटरी होती है। जिसके कारण यह विशेष रूप से जले हुए निशानों का इलाज और उपचार कर सकता है। यह सनबर्न जैसी समस्‍याओं को भी दूर करने में प्रभावी होते हैं।
8. अच्‍छी नींद के लिए: नियमित रूप से इसके तेल से सिर की मालिश करना नींद को बढ़ावा देता है। क्‍योंकि यह तेल मस्तिष्‍क में ऐसे हार्मोन को उत्‍तेजित करता है जो नींद को प्रेरित करते हैं। इसके अलावा इसके तेल का इस्‍तेमाल तनाव को कम करने में भी सहायक होता है। इसके लिए आप रात में सोने से पहले इसके तेल से सिर की मालिश करें और अपनी नाक के आस-पास इस तेल को लगाएं। ऐसा करने से आपको शांति का अनुभव होगा जो आपको अच्‍छी नींद लेने में सहायक होता है।

Third party image reference
9. बालों को मजबूत करे: आप अपने बालों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए रतनजोत की जड़ का उपयोग कर सकते हैं। रतनजोत की जड़ बालों को मजबूत करने और बालों संबंधी अन्‍य समस्‍याओं को प्रभावी रूप से दूर करने में सहायक होती हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि रतनजोत की जड़ में बालों को रंगने वाले प्राकृतिक गुण होते हैं जो बालों के लिए सुरक्षित होते हैं। नियमित रूप से रतनजोत की जड़ के पेस्‍ट और तेल का उपयोग करने पर यह बालों को प्राकृतिक रंग देने के साथ ही इन्‍हें झड़ने से बचाते हैं। यदि आप भी बाल झड़ने की समस्‍या से परेशान हैं तो रतनजोत की जड़ के लाभ ले सकते हैं।
10. दाद-खाज और खुजली का इलाज: इसके लिए आप इसकी जड़ के पाउडर को पानी के साथ पेस्‍ट बनाएं और प्रभावित जगह पर लगाएं। नियमित रूप से कुछ दिनों तक ऐसा करने से आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।
नोट – रतनजोत का उपयोग बालों और त्वचा के लिए बाहरी रूप में किया जा सकता है अन्य किसी भी उपचार में इसका इस्तेमाल करने से पहले औषधी विशेषज्ञ से सलाह अवश्य लें।
दोस्तों यह जानकारी आपको कैसी लगी? अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर दें। हमारा लेख पसंद आये तो लाइक, शेयर और फॉलो जरूर करें।