Monday, 16 December 2019

पायल का सपोर्ट, एक्ट्रेस ने कहा, एक घंटे के लिए हाफिज सईद रख लो नाम, सैल्यूट करेगी कांग्रेस

मुंबई/राजस्थान : एक्ट्रेस पायल रोहतगी को 24 दिसंबर तक जेल भेज दिया गया है। पायल पर गांधी और नेहरू परिवार को लेकर सोशल मीडिया पर अश्लील कमेंट का आरोप है। राजस्थान की बूंदी कोर्ट ने पायल रोहतगी की बेल पिटिशन रिजेक्ट कर दी और 24 दिसंबर तक जेल भेज दिया। अब इस पूरे विवाद पर अब एक्ट्रेस और बिग बॉस की एक्स कंटेस्टेंट कोएना मित्रा भी कूद गई है। उन्होंने पायल का पूरा सपोर्ट किया और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर अपनी भड़ास निकाली।
पायल के सपोर्ट में कोएना
कोएना मित्रा ने पायल रोहतगी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा- एक घंटे के लिए अपना नाम बदलकर हाफिज सईद रख लो। इसके बाद कांग्रेस सैल्यूट करेंगी। शर्म करो कांग्रेस सरकार।
सोमवार को पायल कोर्ट में पेश हुई।
ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजी गई पायल
पुलिस ने सोमवार को पायल रोहतगी को एसीजेएम कोर्ट के सामने पेश किया। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद एसीजेएम हनुमान जाट ने बेल पिटिशन रिजेक्ट कर दी और पायल रोहतगी को 24 दिसंबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजे जाने का फैसला सुनाया। रोहतगी ने 13 दिसंबर को जिला एवं सेशन कोर्ट में एंटीसिपेटरी बेल के लिए भी अर्जी दी थी, जिस पर सोमवार को सुनवाई होनी थी। इससे पहले ही रविवार को पुलिस ने उन्हें अरेस्ट कर लिया।
10 अक्टूबर को दर्ज हुआ था मामला
पुलिस ने मोतीलाल नेहरु, जवाहरलाल नेहरु, इंदिरा गांधी और गांधी-नेहरू परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ अश्लील कमेंट वाले वीडियो पोस्ट करने के लिए एक्ट्रेस के खिलाफ 10 अक्टूबर को आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था। इससे पहले पायल रोहतगी को इस महीने की शुरूआत में एक नोटिस दिया गया था और इस संबंध में जवाब देने के लिए कहा गया था।
कांग्रेस कार्यकर्ता ने की कंप्लेन
प्रदेश युवा कांग्रेस महासचिव एवं बूंदी के रहने वाले चर्मेश शर्मा ने पायल को लेकर कंप्लेन दी दर्ज कराई है। उन्होंने पुलिस के सामने आपत्तिजनक सामग्री की कॉपी के साथ कंप्लेन की थी। इसके बाद एक्ट्रेस के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था। रोहतगी ने छह सितम्बर और 21 सितम्बर को अपने सोशल मीडिया अकाउंट फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट की थी।
शर्मा ने एक्ट्रेस के खिलाफ अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि अश्लील वीडियो वाले पोस्ट से देश की छवि धूमिल हुई, अश्लीलता और धार्मिक घृणा फैली तथा इसके अलावा एक महिला की छवि को नुकसान भी पहुंचा।
बता दें कि इस महीने की शुरूआत में एक्ट्रेस ने ट्विटर पर आरोप लगाया था कि गांधी परिवार के दबाव में राजस्थान के मुख्यमंत्री उनके खिलाफ काम कर रहे हैं।