Thursday, 12 December 2019

रणजी और आइएसएल के मुकाबले गुवाहाटी में कर्फ्यू के कारण हुए स्थगित

नई दिल्ली, प्रेट्र। नागरिकता (संशोधन) विधेयक के कारण उपजी हिंसा की वजह से गुवाहाटी में खेल भी प्रभावित हो रहे हैं। यहां कफ्र्यू के चलते इंडियन सुपर लीग (आइएसएल) और रणजी ट्रॉफी क्रिकेट के मुकाबले गुरुवार को स्थगित करने पड़े।
बीसीसीआइ के क्रिकेट मामलों के महाप्रबंधक सबा करीम ने कहा कि असम और सर्विसेस के बीच रणजी ट्रॉफी मुकाबला चौथे दिन नहीं खेला जा सका। हमें राज्य संगठन ने मैच नहीं कराने की सलाह दी थी। खिलाडि़यों और मैच अधिकारियों को होटल में ही रहने को कहा गया। इस समय हमारे लिए इनकी सुरक्षा सबसे उपर है और उन्हें सुरक्षित रखने की हर मुमकिन कोशिश की जाएगी।
यह पूछने पर कि क्या मैच दोबारा खेला जाएगा या अंक बांटे जाएंगे तो करीम ने स्पष्ट जवाब नहीं देते हुए कहा कि हमें जो सलाह अधिकारियों से मिलेगी उसके अनुसार काम करेंगे। इस बीच अगरतला में भी विरोध के बावजूद मेजबान त्रिपुरा और झारखंड के बीच मैच आगे खेलने का फैसला किया गया।
शहर के इंदिरा गांधी एथलेटिक्स स्टेडियम में आइएसएल के तहत नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी और चेन्नईयन एफसी का मुकाबला भी होना था, जो स्थगित करना पड़ा। आइएसएल द्वारा गुरुवार को कहा गया, 'गुवाहाटी में कफ्र्यू के चलते अगले आदेश तक के लिए नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी और चेन्नईयन एफसी का मैच स्थगित किया जाता है। हम संबंधित अधिकारियों से पिछले 48 घंटे से संपर्क में हैं। खिलाडि़यों और अधिकारियों के साथ प्रशंसकों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। इसे ध्यान में रखते हुए हमने यह फैसला लिया है।'
दोनों टीमों ने बुधवार को अभ्यास भी नहीं किया था और मैच से पहले होने वाली प्रेस वार्ता भी नहीं हुई थी। मालूम हो कि नागरिकता (संशोधन) विधेयक के विरोध का केंद्र गुवाहाटी ही है। यहां बुधवार रात से अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाया गया है। इसकी वजह से आम लोगों के साथ-साथ खेल पर भी बड़ा असर पड़ा है और खेल प्रेमियों को कुछ अच्छे मुकाबलों से वंचित रहना पड़ा।