Wednesday, 11 December 2019

AUS vs NZ : 36 साल बाद आस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने की कोशिश करेगी न्यूजीलैंड


पर्थ : पाकिस्तान को अपने घर में एकतरफा मात देने के बाद आस्ट्रेलिया को अब तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए न्यूजीलैंड की मेजबानी करनी है। इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच पर्थ स्टेडियम में गुरुवार से शुरू हो रहा है जो दिन-रात प्रारूप का होगा। इस स्टेडियम पर यह पहला दिन-रात प्रारूप का टेस्ट मैच होगा। न्यूजीलैंड ने आस्ट्रेलिया में अपनी आखिरी टेस्ट सीरीज 1985-86 में जीती थी। अब किवी टीम 36 साल के इतिहास को बदलने उतरेगी। एक ओर जहां आस्ट्रेलिया, पाकिस्तान को दो मैचों की टेस्ट सीरीज में मात दे कर आ रही है तो वहीं न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को अपने घर में दो मैचों की सीरीज में 1-0 से मात दी थी, वह सीरीज हालांकि टेस्ट चैम्पियनशिप का हिस्सा नहीं थी। न्यूजीलैंड के लिए देखा जाए तो यह सीरीज इंग्लैंड सीरीज से ज्यादा चुनौतीपूर्ण होने वाली है क्योंकि इस बार उसे आस्ट्रेलिया से उसी के घर में भिड़ना है।
पाकिस्तान के खिलाफ आस्ट्रेलिया ने जिस तरह का प्रदर्शन किया उसे देखते हुए किवी टीम और सतर्क रहेगी। आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने दोनों मैचों में शतक लगाए थे और उनके अलावा मार्नस लाबुशाने ने भी बल्ले से बेहतरीन योगदान दिया था। एशेज सीरीज में दमदार प्रदर्शन करने वाले स्टीव स्मिथ का बल्ला पाकिस्तान के खिलाफ खामोश रहा था, लेकिन किवी टीम के कप्तान केन विलियम्सन इस बात को जानते हैं कि स्मिथ जिस तरह के बल्लेबाज हैं उनका फॉर्म कभी भी वापस आ सकता है। वहीं गेंदबाजी में मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस और जोश हेजलवुड की तिगड़ी किवी बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ा कर सकती है।
आस्ट्रेलिया ने अपनी अंतिम-11 का ऐलान कर दिया है जिसमें इन तीनों गेंदबाजों के साथ स्पिनर नाथन लॉयन भी हैं। लॉयन को खेलना भी किवी टीम के लिए चुनौती होगी। वहीं किवी टीम की बल्लेबाजी कप्तान विलियम्सन और अनुभवी रॉस टेलर के जिम्मे है। गेंदबाजी में ट्रेंट बाउल्ट और टिम साउदी उसके प्रमुख हथियार हैं लेकिन बाउल्ट खेलेंगे या नहीं यह तय नहीं है। उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में चोट लग गई थी जिसके कारण वह दूसरे टेस्ट मैच में भी नहीं खेले थे।
टीमें : आस्ट्रेलिया : टिम पेन (कप्तान और विकेटकीपर), डेविड वार्नर, जोए बर्न्‍स, मार्नस लाबुशाने, स्टीवन स्मिथ, मैथ्यू वेड, ट्रेविस हेड, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, नाथन लॉयन, जोश हेजलवुड।
न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), टॉड एस्ले, टॉम ब्लंडल, ट्रेंट बाउल्ट, कोलिन डी ग्रांडहोम, लॉकी फग्यरूसन, मैट हेनरी, टॉम लाथम (विकेटकीपर), हेनरी निकोलस, जीत रावल, मिशेल सैंटनर, टिम साउदी, रॉस टेलर, नील वेग्नर, बीजे वाटलिंग।