Monday 4 November 2019

टी-20 मैच में भारत के सामने था 207 रन का लक्ष्य, फिर आया था धोनी-युवराज-सहवाग का तूफ़ान

अंतर्राष्ट्रीय टी 20 क्रिकेट समय के साथ बहुत बदल गया है। इसके बाद भी, किसी भी टीम के लिए एक टी 20 मैच में 200 से अधिक रनों के लक्ष्य का पीछा करना इतना आसान नहीं है। 2009 में, भारतीय टीम ने मोहाली में श्रीलंका के खिलाफ टी 20 मैच में कुछ ऐसा ही किया था। भारत 2 टी-20 मैच की सीरीज के पहले मैच में हार गया था, इसलिए दूसरे मैच में जीत जरूरी थी।

श्रीलंका की बल्लेबाजी

Copyright Holder: Cricket Today
श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 206 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। कुमार संगकारा ने उनके लिए 31 गेंदों में 59 रन बनाए।

भारत की बल्लेबाजी
इस विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाजों गौतम गंभीर और वीरेंद्र सहवाग ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दी। सहवाग ने सिर्फ 36 गेंदों में 64 रन बनाए, जिसमें 3 छक्के और 7 चौके शामिल थे।


Third party image reference
11 ओवर में 108/2 के स्कोर पर धोनी-युवराज की जोड़ी ने मैदान पर बल्लेबाजी की। इसके बाद, दोनों ने भारत की ऐतिहासिक जीत को निर्धारित करने के लिए केवल 6 ओवरों में 80 रनों की साझेदारी निभाई।


Copyright Holder: Cricket Today
युवराज ने 25 गेंदों में 60 रन बनाए और धोनी ने 28 गेंदों में 46 रन बनाए। युवराज को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला। लक्ष्य का पीछा करते हुए यह टी 20 क्रिकेट में भारत की सबसे बड़ी जीत है।