Sunday 18 August 2019

तो इसलिए सैफ अली खान की प्रोपर्टी का वारिस नहीं बन पाएगा तैमूर

बॉलीवुड के छोटे नवाब और अभिनेता सैफ अली खान ने 16 अगस्त को ही अपना 49वां जन्मदिन मना रहे हैं। आपको बता दें कि सैफ अली खान पटौदी खानदान के 10वें नवाब है। शायद आपको न मालूम हो कि सैफ अली खान के पास भोपाल में पटौदी खानदान की 5000 करोड़ की संपत्ति। तो ऐसे में तैमूर अली खान इस संपत्ति के वारिए हुए।
लेकिन कुछ वजह से इस संपत्ति के वारिस तैमूर अली खान नहीं हो सकते हैं। जी हां इस संपत्ति पर विवादों चल रही है। तो इस स्थिति में सैफ अली खान अपने छोटे से मासूम बेटे को इस संपत्ति का वारिस नहीं बना सकते हैं। सैफ की इस संपत्ति को सरकार ने एनिमी प्रॉपर्टी प्रोटेक्शन एंड रजिस्ट्रेशन एक्ट संशोधित किया था। जिसके बाद से सैफ की ये जमीन एनिमी प्रॉपर्टी के अंतर्गत आ है।
इस एक्ट के अनुसार अगर कोई एनिमी प्रॉपर्टी पर अपने पुत्र के वारिस होने का दावा पेश करता है, तो ऐसे में उसे हाईकोर्ट या फिर सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा करना होता है।
आपको बता दें कि भोपाल के आखिरी नवाब और अभिनेता सैफ अली खान के परदादा हमीदुल्ला खान की पूरी संपत्ति को शत्रु संपत्ति कानून की जद में है। सरकार ने एनिमी प्रॉपर्टी प्रोटेक्शन एंड रजिस्ट्रेशन एक्ट में अमेंडमेंट के लिए 5वीं बार ऑर्डिनेंस जारी करने के प्रपोजल को बुधवार को मंजूरी दे दी।
आपको बता दें कि सैफ के पास और भी कई करोड़ों की सपत्ति है। सैफ का जन्म 16 अगस्त को 1970 में हुआ था। सैफ की दादी साजिदा सुल्तान भोपाल के आखिरी नवाब हमीदुल्ला खान की बेटी थी। नवाब हमीदुल्ला खान के बाद उनकी छोटे बेटी ने भोपाल की रियासत अपने हाथ में ले ली थी। ऐसा कहा जाताा है कि उनकी बड़ी बेटी आदिबा सुल्तान बंटवारे के वक्त पाकिस्तान चली गई थी। साजिदा के बाद उनकी ये कमान उनके बेटे और क्रिकेटर मंसूर अली खान ने संभाली और उनके बाद अब सैफ अली खान संभाल रहे हैं। इस वजह से सैफ इस शाही संपत्ति के हकदार है।
सैफ अली खान के पास भोपाल में पटौदी खानदान की 5000 करोड़ की संपत्ति। तो ऐसे में तैमूर अली खान इस संपत्ति के वारिए हुए। लेकिन कुछ वजह से इस संपत्ति के वारिस तैमूर नहीं हो सकते हैं। जी हां इस संपत्ति पर विवादों चल रही है। तो इस स्थिति में सैफ अपने छोटे से मासूम बेटे को इस संपत्ति का वारिस नहीं बना सकते हैं। सैफ की इस संपत्ति को सरकार ने एनिमी प्रॉपर्टी प्रोटेक्शन एंड रजिस्ट्रेशन एक्ट संशोधित किया था। जिसके बाद से सैफ की ये जमीन एनिमी प्रॉपर्टी के अंतर्गत आ है।तो इसलिए सैफ अली खान की प्रोपर्टी का वारिस नहीं बन पाएगा तैमूर