Thursday 1 August 2019

सांसद बनने के बाद सनी देओल ने बढ़ाई फीस तो हाथ से गई फिल्म, सोशल मीडिया पर उड़ा मजाक

बॉलीवुड के एक्शन स्टार सनी देओल ने सांसद बनने के बाद फिल्‍मों के लिए अपनी फीस बढ़ा दी है। इसके कारण सनी देओल को अपने अपकमिंग फिल्म 'फतेह सिंह' से हाथ धोना पड़ा गया है। फिल्‍म से जुड़े सूत्रों ने बताया कि फतेह सिंह के लिए सनी देओल ने 5 करोड़ रुपए की मांग की, जो मेकर्स को ज्‍यादा लगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म का बजट लगभग 15 करोड़ रुपए से 18 करोड़ रुपए था। ऐसे में सनी की फीस के कारण फिल्म के मेकर्स का बजट बिगड़ सकता है। नतीजतन, मेकर्स ने तय किया कि फतेह सिंह किसी और एक्‍टर के साथ बनाएंगे।

Copyright Holder: Picturewalebaba
फतेह सिंह राजकुमार संतोषी का ड्रीम प्रोजेक्‍ट है। वो लम्बे समय से इसे बनाने में लगे हुए हैं। सनी देओल के फीस बढ़ाने के बाद इसके प्रोड्यूसर्स ने तय कर लिया है कि सनी देओल की जगह साउथ के किसी बड़े एक्‍टर के साथ फिल्म को आगे बढ़ाया जाए। उनका तर्क है कि टीवी पर साउथ इंडियन फिल्‍मों के हिंदी डब वर्जन ने हिंदी बेल्ट में वहां के स्‍टार्स की पॉपुलैरिटी बढ़ाई है। उनसे कनेक्‍ट करने और पहचानने में लोगों को दिक्‍कत नहीं आएगी। बहरहाल, देखना यह दिलचस्‍प होगा कि मेकर्स किस कलाकार को फतेह सिंह का किरदार देंगे।

Copyright Holder: Picturewalebaba
बताया जा रहा है कि यह फिल्‍म पंजाब से लंदन माइग्रेट करने वाले युवाओं की कहानी है। नायक पंजाब से निकल लंदन पहुंच जाता है। वहां वह बम डिफ्यूज करने वाले दस्‍ते में काम करने लगता है। लंदन में इन दिनों खालिस्‍तान फिर से सिर उठा रहा है। फिल्‍म में इस अलगाववादी संगठन की गतिविधियों को भी दिखाया जाएगा है।

Copyright Holder: Picturewalebaba
बता दें कि सनी देओल और राजकुमार संतोषी के रिश्ते 17 साल पहले बिगड़ गए हैं। साल 2002 में राजकुमार संतोषी की फिल्म द लिजेंड ऑफ भगत सिंह और सनी देओल की फिल्म शहीद-ए-आजाम क्लैश हुई थी। दोनों ही फिल्मों का सब्जेक्ट भगत सिंह थे। ऐसे में फतेह सिंह के जरिए वो सनी देओल के साथ अपने बिगड़े रिश्‍ते सुधारने में भी जुटे हुए थे। हालांकि, उनका यह अरमान फिलहाल पूरा होता नजर नहीं आ रहा है। फिल्म के जरिए सनी और राजकुमार संतोषी 23 साल बाद साथ काम करने वाले थे। सनी देओल और राजकुमार संतोषी की जोड़ी ने दामिनी, घायल और घातक जैसी फिल्में साथ बनाई हैं।