Tuesday 16 July 2019

आफत की बाढ़: दरभंगा में फिर टूटा तटबंध; 34 लोगों की और मौत

उत्तर बिहार में बाढ़ की स्थिति और भयावह हाेती जा रही है। बूढ़ी गंडक, गंडक व लखनदेई के जलस्तर में तेजी से वृद्धि हाे रही है। इससे मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर, दरभंगा, पूर्वी व पश्चिमी चंपारण जिले में बाढ़ का पानी हर दिन नए इलाकाें में फैल रहा है।

दरभंगा के जाले प्रखंड में खिरोई नदी का पश्चिमी तटबंध मुरैठा व मिलकी के पास टूटने से 5 पंचायतें सर्वाधिक प्रभावित हैं। दरभंगा-सीतामढ़ी रेलखंड पर कमतौल-जोगियारा के बीच रेल पुल 18 के पास बाढ़ का पानी खतरे के निशान से ऊपर बहने से ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है। बाढ़ के पानी में डूबने से 34 लोगों की मौत हो गई है।
बाढ़ के हालात 
मृतकों में दरभंगा के 2, मुजफ्फरपुर के 4, मोतिहारी के 1, सीतामढ़ी के 2, शिवहर के 8, मधुबनी के 6, पूर्णिया के 9 व कटिहार के 2 हैं।
  • मुजफ्फरपुर शहरी क्षेत्र के उत्तरी इलाकाें में तेजी से पानी फैल रहा है। 
  • पूर्वी व पश्चिम चंपारण के 6 प्रखंडाें का जिला मुख्यालय से सड़क संपर्क भंग।
सरकार की तैयारी
  • सीएम की घोषणा -19 जुलाई से बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों के हर परिवार को मिलेंगे 6000 रु.।
  • विधानमंडल में कहा- अभी राज्य के 12 जिलों के 26 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित।
  • एनडीआरएफ की 26 कंपनियों ने अब तक 1.25 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया।
  • पटना से वाल्मीकिनगर तक गंडक नदी के तटबंधों का नीतीश ने हवाई सर्वेक्षण किया।
सबसे ज्यादा शिवहर में 8 और मुजफ्फरपुर में चार की मौत
उत्तर बिहार में बाढ़ के पानी में डूबने से 23 लोगों की मौत हो गई है। दरभंगा जिले के उजान निवासी दाे भाई एनएच-57 के पास कमला नदी की बाढ़ में साेमवार काे ही बह गए थे। इनमें एक अाशु कर्ण (20) का कुछ पता नहीं चला, जबकि दूसरे किस्सू (23) का शव विदेश्वर स्थान इलाके में मिली। मुजफ्फरपुर में 4, मोतिहारी में एक, सीतामढ़ी में 2, शिवहर में 8 लोगों के डूबने की सूचना है। मधुबनी के झंझारपुर में 3, लदनियां में एक, मधेपुर में एक व हरलाखी में एक की माैत हाे गई।
 
मुजफ्फरपुर की 17 पंचायताें के 65 गांवाें में घुसा बाढ़ का पानी
मुजफ्फरपुर जिले के औराई, कटरा व गायघाट प्रखंड में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। कटरा प्रखंड मुख्यालय का सड़क संपर्क बाधित है। तीन प्रखंडाें की 17 पंचायताें के 65 गांवाें में पानी प्रवेश कर गया है। कटरा के 18 व गायघाट प्रखंड की 6 पंचायताें का सड़क संपर्क पूरी तरह कटा हुआ है।
सीएम ने गंडक के तटबंधों का लिया जाएजा
सीएम नीतीश कुमार ने पटना से वाल्मीकिनगर तक गंडक नदी के तटबंधों का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने गोपालगंज के निकट रूपनछाप और समहरा धार के निकट तटबंधों की विशेष निगरानी और सुदृढ़ीकरण का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने पश्चिम चम्पारण के चनपटिया और नरकटियागंज जबकि पूर्वी चम्पारण के रमगढ़वा, सुगौली और बंजरिया इलाकों का भी हवाई सर्वेक्षण किया। 
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 9वीं, 10 वीं की त्रैमासिक परीक्षा स्थगित
बाढ़ प्रभावित जिलों में 9 वीं 10 वीं की त्रैमासिक परीक्षा स्थगित कर दी। 9वीं कक्षा में नामांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई तक बढ़ा दी गई है। मंगलवार को माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरिवर दयाल सिंह ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को पत्र भेजा है। सावधिक परीक्षा 17 से 24 जुलाई तक निर्धारित है।
बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों के हर परिवार को मिलेंगे 6000 रुपए : नीतीश
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सरकार के खजाने पर पहला हक आपदा पीड़ितों का है। बाढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए जितने धन की जरूरत होगी, हम इंतजाम करेंगे। यह फ्लैश फ्लड जैसी स्थिति है। पूरी तरह कुदरती मामला है। इसमें कोई कुछ कर भी नहीं सकता है। 19 जुलाई से बाढ़ पीड़ित इलाके में प्रति परिवार 6000 रुपए का पब्लिक फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) के जरिए भुगतान शुरू होगा। इससे राशि के अंतरण में बैंक पर कोई निर्भरता नहीं रहेगी। मुख्यमंत्री, मंगलवार को विधानमंडल के दोनों सदनों में बाढ़ के हालात, नुकसान और राहत-बचाव के मसले पर बोल रहे थे।