Saturday 11 May 2019

वर्ल्ड कप 2019: 3 खिलाड़ी जिन्हें भारतीय टीम में मौका मिलना चाहिए था


क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के लिए भारतीय क्रिकेट टीम की घोषणा हो चुकी है। जैसी उम्मीद की जा रही थी लगभग टीम भी वैसी ही चुनी गई है। बल्लेबाजी में विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन के साथ-साथ केदार जाधव और एमएस धोनी को टीम में जगह दी गई है। अतिरिक्त विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में अनुभवी दिनेश कार्तिक को चुना गया है तो वहीं केएल राहुल ने भी टीम में जगह बनाने में सफलता हासिल की है।
ऑल-राउंडर में हार्दिक पांड्या का चुना जाना लगभग तय ही थी और दूसरी तरफ विजय शंकर ने भी क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए टीम में जगह बनाने में सफलता हासिल की है। जैसी उम्मीद की जा रही थी उसी हिसाब से स्पिन तिकड़ी में कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल और रविन्द्र जडेजा को टीम में जगह दी गई है।
तेज गेंदबाजी का जिम्मा मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को दिया गया है। कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिनके नाम की चर्चा तो खूब की जा रही थी, लेकिन उन्हें वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकी है। एक नजर उन 3 खिलाड़ियों पर जिन्हें वर्ल्ड कप के लिए मौका दिया जाना चाहिए था।

#3 खलील अहमद

खलील ने 2018 में अपना वनडे डेब्यू किया था। पिछले साल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई भारतीय टीम के लिए खलील ने तीनों टी-20 मुकाबले खेले थे और 4 विकेट हासिल किए थे। वनडे में खलील ने अब तक भारत के लिए 8 वनडे मैचों में 11 विकेट हासिल किए हैं और उनकी इकॉनमी भी 6 से कम की है।
खलील बाएं हाथ के गेंदबाज हैं और उनके पास काफी विविधताएं हैं। इंग्लैंड के माहौल में खलील गेंद को मूव करा सकते थे और उनका टीम में होना भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को मजबूती देता। खलील को वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह दी जानी चाहिए थी। हालांकि भारत ने 4 तेज गेंदबाजों की जगह 3 ही गेंदबाजों पर विश्वास जताया।
Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2 ऋषभ पंत

ऋषभ पंत को आज के समय के सबसे विध्वंसक बल्लेबाजों में से एक के रूप में जाना जाता है। पंत ने काफी कम समय में दिखा दिया है कि वह अपने दिन पर किसी भी गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ रन बना सकते हैं। एमएस धोनी की मौजूदगी के कारण पंत को ज़्यादा वनडे मुकाबले खेलने का मौका नहीं मिला है, लेकिन टेस्ट और टी-20 में पंत ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में जाकर जो प्रदर्शन किया था वह उन्हें वर्ल्ड कप टिकट दिलाने के लिए काफी लग रहा था।
भले ही पंत ने केवल 5 वनडे मुकाबले खेले हैं, लेकिन उनके पास वनडे मैचों में बढ़िया प्रदर्शन करने की क्षमता है और शायद ही किसी ने सोचा होगा कि उन्हें वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह नहीं मिलेगी। इस सीजन आईपीएल में पंत ने दिल्ली कैपिटल्स के लिए एक अर्धशतक की बदौलत 8 मैचों में 245 रन बनाए हैं और उन्हें वर्ल्ड कप के लिए टीम में जगह मिलनी चाहिए थी।

#3 अंबाती रायडू

अंबाती रायडू मध्यक्रम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाजों में से एक हैं। भले ही रायडू का भारतीय टीम के लिए हालिया प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था, लेकिन यह बात सबको पता है कि वह कितने शानदार बल्लेबाज हैं। रायडू ने भारतीय टीम के लिए 55 मैचों में 1694 रन बनाए हैं जिसमें 3 शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं।
नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए भारतीय टीम पशोपेश में थी कि वह किसको उतारने वाले हैं और रायडू इस नंबर के लिए उपयुक्त थे। रायडू के ऊपर विजय शंकर को तरजीह दी गई है, क्योंकि वो बल्ले के साथ गेंद के साथ योगदान दे सकते हैं। हालांकि, मध्यक्रम में पारी को बनाने के नजरिए से देखा जाए तो रायडू टीम में जगह पाने के हकदार थे।